नेपाल: लांगतांग में 53 और शव मिले

लांगतांग इमेज कॉपीरइट Reuters

नेपाल में डेढ़ महीने पहले आए विनाशकारी भूकंप के कारण मलबे में दबे शवों को अब भी निकाला जा रहा है.

राजधानी काठमांडू से 130 किलोमीटर दूर चर्चित ट्रेकिंग केंद्र लांगतांग से 53 शव निकाले गए हैं.

नेपाल में 25 अप्रैल को 7.8 तीव्रता का भूकंप आया था जिसमें मरने वालों की संख्या 8700 से अधिक हो गई है. लाखों लोग इससे प्रभावित हुए थे. इसके बाद लगातार कई दिन भूकंप के झटके आते रहे हैं.

12 मई 2015 को फिर 7.3 तीव्रता का एक और भूकंप आया था जिसमें कम से कम 65 लोगों की मौत हुई थी और दो हज़ार से अधिक घायल हुए थे.

लांगतांग तबाह, कई मरे

इमेज कॉपीरइट
Image caption लांगतांग में विनाशकारी भूस्खलन हुआ था.

लांगतांग के चर्चित ट्रेकिंग केंद्र से शनिवार को बरामद 53 शवों में तीन विदेशियों के हैं, दो स्पेन के नागरिकों के हैं और एक जर्मनी नागरिक का है.

भूकंप के बाद लांगतांग में भूस्खल हुआ जिससे यह पर्यटन गांव लगभग तरह तबाह हो गया था.

पुलिस के प्रवक्ता कमल सिंह बाम ने बीबीसी को बताया कि वहां अब भी 270 से अधिक लोग मलबे में दबे हुए हैं जिनमें कम से कम 190 नेपाली और 80 विदेशी हैं.

इमेज कॉपीरइट AP

स्थानीय अधिकारी गौतम रिमाल ने बीबीसी को बताया कि अब तक लांगतांग से 185 शव बरामद किए जा चुके हैं और खोज अभी जारी है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार