अब 5 अफ़्रीकी देशों में भी मैगी पर संकट

मैगी

पूर्वी अफ़्रीका के सबसे बड़े सुपरमार्केट चेन ने पांच देशों की अपनी दुकानों से नेस्ले के मैगी नूडल्स ब्रांड को हटा लिया है.

खाद्य सुरक्षा से जुड़ी चिंताओं की वजह से मैगी को दुकानों से हटाया गया.

केन्या की सुपरमार्केट चेन कंपनी नाकुमैट्ट का कहना है कि केन्या के एक उपभोक्ता समूह की मांग के बाद केन्या, युगांडा, तंज़ानिया, रवांडा और दक्षिणी सूडान की दुकानों से मैगी के पैकेट हटाए गए.

भारत में मैगी पर प्रतिबंध लगने के बाद केन्या के समूह ने सक्रियता दिखाई है. भारत में नियामकों ने मैगी को स्वास्थ्य के लिए हानिकारक बताया था.

हालांकि नेस्ले ने कहा है कि मैगी नूडल्स पूरी तरह से सुरक्षित हैं.

मैगी नूडल्स केन्या में काफ़ी मशहूर है. मैगी के ख़िलाफ़ शिकायत दर्ज कराने वाले कंज़्यूमर फ़ेडरेशन ऑफ़ केन्या (कोफ़ेक) का कहना है कि केन्या की दूसरी सुपरमार्केट चेन भी अपनी मर्ज़ी से नूडल्स हटाने पर राज़ी हो गई हैं.

समाचार एजेंसी पीटीआई के मुताबिक़ नेपाल में भी मैगी पर प्रतिबंध लगाया गया है.

सिंगापुर के अख़बार स्ट्रेट्स टाइम्स की तीन दिन पहले प्रकाशित ख़बर के अनुसार सिंगापुर के आयातकों को भारत में बने मैगी नूडल्स की बिक्री रोकने का आदेश दिया गया है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार