चमक दमक से दूर चीन की 9 अलग तस्वीरें

इमेज कॉपीरइट Stefano Cerio

चर्चित इतालवी फोटोग्राफ़र स्टीफ़ेन चेरियो ने चीन की कुछ ऐसी तस्वीरें खींची हैं जो चीन की एक अलग तस्वीर पेश करती हैं.

जहाँ चीन में खुले आसमान के नीचे कोई भी तस्वीर बिना भीड़ और लोगों के खींचना मुश्किल है, वहीं इन तस्वीरों में लोग नहीं है.

वे बीते एक दशक से अंधेरे में, बिना रोशनी के फोटोग्राफ़ी कर रहे हैं. उनकी तस्वीरों की नई सीरीज़ 'चाइनीज़ फ़न' नाम की किताब में छपी हैं.

उन्होंने चीन के कई थीम पार्क के दिलकश नज़ारे क़ैमरे में क़ैद किए हैं, लेकिन वो आम चटक रंगों में नहीं दिखते, बल्कि फीके रंग में नज़र आते हैं.

चेरियो कहते हैं, "जब आकाश नीला होता है, तब मैं पिक्चर नहीं लेता. नहीं तो ये टूरिस्ट कंपनी के ब्रोशर के जैसा लगता है." हालाँकि, आसामान का फीका रंग प्रकृतिक कारणों से नहीं, चीन में प्रदूषण के कारण है.

1. शंघाई का पीपल पार्क

शंघाई स्थित पीपल पार्क की तस्वीर से ही स्टीफ़ेन चेरियो की एक दूसरी ख़ासियत का पता चलता है.

अन्य फोटोग्राफ़र अपनी तस्वीरों के आसपास लोगों की भीड़ को भी फ्रेम का हिस्सा बनाते हैं.

लेकिन चेरियो अपनी तस्वीरें तभी लेते हैं जब वो जगह लोगों से बिलकुल खाली हो.

2. बीजिंग का शीजिंगशैंग पार्क

इमेज कॉपीरइट Stefano Cerio

यही तस्वीर बीजिंग स्थित शीजिंगशैंग पार्क की है. चेरियो की तस्वीरों से चीन की एक अलग ही दुनिया सामने आती है.

उन्होंने बीबीसी कल्चर को बताया, "मकाऊ चीन की इकलौती जगह है जहां जुआ खेलने की कानूनी तौर पर अनुमति है. मेरी तस्वीर दिखाती है कि ये जगह लास वेगास से कितनी अलग है. यहां चमक दमक वाली रोशनी नहीं है."

3. शेनजेन का लिटिल चाइना पार्क

इमेज कॉपीरइट Stefano Cerio

शेनजेन शहर के लिटिल चाइना पार्क में चीन के सभी ऐतिहासिक आकर्षणों को मिनिएचर रूप में दर्शाया गया है.

चेरियो कहते हैं, "चीन के इस पार्क में ख़ासी तादाद में पर्यटक आते हैं. इसलिए मुझे इसकी तस्वीर सूरज की पहली रोशनी से पहले लेनी पड़ी. यहां चीन के इतिहास से संबंधित जगहों-घटनाओं को मिनिएचर के रूप में बनाया गया है ."

4. किंगदाओ का ट्रेज़र आइलैंड

इमेज कॉपीरइट Stefano Cerio

ट्रेज़र आइलैंड पायरेट किंगडम के बारे में चेरियो कहते हैं, "मैंने इन जगहों पर तस्वीरें तब ली हैं, जब ये अमूमन खाली होते हैं. चीन में इन जगहों पर आम तौर पर बहुत लोग होते हैं, इसलिए कंट्रास्ट बेहतरीन हो गया."

वैसे ये पार्क एक शॉपिंग माल के अंदर स्थित है.

इस किताब की प्रास्तावना में फोटोग्राफ़ी के प्रोफ़ेसर वाल्टर गुडागनिनि ने लिखा, "इनकी तस्वीरों में कोई आदमी नज़र नहीं आता. कोई मशीनरी नहीं दिखती. इसीलिए सीमित दिखने वाली ये जगहें विशालकाय, बिना किसी सीमा के लगती हैं."

5. हांगकांग में निर्जन दिखता इलाका

इमेज कॉपीरइट Stefano Cerio

स्टीफ़ेन की ये तस्वीर हांगकांग की गगनचुंबी इमारतों की है. आसमान के नीचे मेगासिटी की स्काईलाइन को देखने के लिए ये तस्वीर दिलचस्प जान पड़ती हैं, कुछ अस्पष्ट और कुछ साफ़.

वैसे ये स्टीफ़ेन की फ़ोटोग्राफ़ी का ही कमाल है भीड़भाड़ वाले इलाके भी किसी निर्जन स्थान की तरह मालूम होते हैं.

6. ख़्वारयू में जहां शादी की फ़ोटो खींचते हैं

इमेज कॉपीरइट Stefano Cerio

ख़्वारयू ज़िले में ये जगह स्थानीय लोगों के बीच शादी की फोटो खिंचवाने के लिए मशहूर है.

स्टीफ़न चेरियो बताते हैं, "तस्वीर में नजर आ रहा पियानो वास्तविक नहीं है. ये फोटोग्राफ़ी सेट का हिस्सा है. वर-वधू इसके साथ तस्वीरें खिंचाते हैं."

7. बीजिंग का वॉटर क्यूब

इमेज कॉपीरइट Stefano Cerio

बीजिंग में 2008 के ओलंपिक खेलों के दौरान बने नेशनल एक्वाटिक्स सेंटर के अंदर एक वाटर पार्क है. इस तस्वीर को देखने से केवल उसके आर्किटेक्चर का महत्व पता नहीं चलता, बल्कि यह कहीं ज़्यादा मानवीय दिखता है.

वैसे स्टीफ़ेन की तमाम कोशिशों के बाद भी इस तस्वीर में एक शख़्स फ्रेम में आ ही गया है जो एकदम दाएं खड़े दो पिलर्स के बीच है. स्टीफ़ेन चेरियो बताते हैं, "मुझे ये बाद में महसूस हुआ. एक शख़्स पृष्ठभूमि में आ गया है, दो पिलरों के बीच."

8. हांगकांग का ओशन पार्क

ये तस्वीर हांगकांग स्थित ओशन पार्क की है. इसमें रोलर कोस्टर्स को देख कर कम्यूनिस्ट प्रोपागैंडा से उलट असल स्थिति का अंदाजा होता है.

इमेज कॉपीरइट Stefano Cerio

इन ट्रैक्स में आपको कुछ हिस्सा रंगा हुआ दिख रहा है और कुछ बाक़ी है. ऐसा लगता है काम बीच में ही छोड़ दिया गया हो.

9. ख़्वारयू के फ़न पार्क की साइन पोस्ट

इमेज कॉपीरइट Stefano Cerio

स्टीफ़ेन चेरियो ये मानते हैं कि उनकी फ़ोटोग्राफ़ी पर डूसेलडोर्फ़ स्कूल के फ़ोटोग्राफ़र बेयरंट और हिला बीचर के अंदाज़ से मेल खाती है. वो कहते हैं, "मेरा नज़रिया एक ही है, लेकिन मेरे सब्जेक्ट क्रेज़ी होते है."

ये तस्वीर भी एक फन पार्क के बाहर के फल के टोकरे जैसे बने साइन पोस्ट की है.

अंग्रेज़ी में मूल लेख यहां पढ़ें, जो बीबीसी कल्चर पर उपलब्ध है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार