पुतिन की परमाणु पहल ख़तरनाक: नैटो

व्लादिमीर पुतिन, रूसी राष्ट्रपति इमेज कॉपीरइट Reuters

रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने कहा है कि रूस साल 2015 तक अपने परमाणु जखीरे में 40 नए इंटरकॉन्टिनेंटल बैलेस्टिक मिसाइल जोड़ेगा.

एक हथियार मेले में बोलते हुए पुतिन ने कहा कि ये मिसाइलें सबसे आधुनिक एंटी-मिसाइल डिफ़ेंस सिस्टम को भेदने में सक्षम होंगी.

पुतिन का ये बयान अमरीका के पूर्वी यूरोप के नेटो देशों में सैन्य मौजूदगी बढ़ाने के प्रस्ताव के बाद आया है.

पूर्वी यूक्रेन में रूस की भूमिका को लेकर काफ़ी अधिक तनाव है.

नेटो ने पुतिन के इस बयान की आलोचना की है.

बर्ताव की पुष्टि

इमेज कॉपीरइट AP

पुतिन के बयान के बाद मंगलवार को नेटो सेक्रेटरी जनरल जेन्स स्टॉल्टनबर्ग ने कहा, "पुतिन के बयान से पिछले कुछ समय से रूस के रवैये और बर्ताव की पुष्टि होती है. हमने देखा है कि रूस रक्षा में क्षेत्र में निवेश बढ़ा रहा है, ख़ासकर परमाणु क्षमता के क्षेत्र में."

नेटो और पश्चिमी देशों के नेताओं ने रूस पर यूक्रेन में रूस समर्थक विद्रोहियों को टैंक, मिसाइल जैसे भारी हथियार और सैनिक भेजने का आरोप लगाया है.

रूस ने इन आरोपों से इनकार किया है. उसका कहना है कि अगर कोई रूसी वहाँ लड़ाई में शामिल हैं तो वो 'अपनी मर्जी से' शामिल हैं.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार