अफ़ग़ानिस्तान: संसद हमले में 6 चरमपंथी मरे

अफ़गानिस्तान संसद बम हमला इमेज कॉपीरइट Naqibullah Faiq

अफ़ग़ानिस्तान की राजधानी काबुल में संसद भवन पर हुए हमले में छह तालिबानी चरमपंथी मारे गए हैं और इसके साथ सुरक्षा बल और चरमपंथियों के बीच मुठभेड़ समाप्त हो गई है.

ख़बरों के मुताबिक़ हमलावरों ने संसद भवन के बाहर एक बड़ा कार बम धमाका किया और उसके बाद इमारत में घुस गए.

तालिबान ने हमले की ज़िम्मेदारी ली है.

इमेज कॉपीरइट Reuters

हमला तब हुआ जब अफ़ग़ानिस्तान के नामांकित रक्षा मंत्री मसूम स्तानेकज़ई का परिचय सासंदों से कराया जा रहा था, उनके नाम पर संसद की मुहर लगनी है.

साफ़ संदेश

सोशल मीडिया पर तस्वीरों में लोगों को भागते देखा जा सकता है.

स्थानीय मीडिया के मुताबिक़ काबुल के दहमाज़ांग इलाके में भी एक धमाका हुआ है.

इमेज कॉपीरइट Reuters

ख़बरों के मुताबिक कम से कम 18 लोग ज़ख़्मी हो गए हैं.

बीबीसी संवाददाता डेविड लोयन का कहना है कि अफ़ग़ानिस्तान के हालात के हिसाब से भी ये काफ़ी नाटकीय दृश्य हैं. पुलिस के सामने इमारत को खाली करने और हमलावरों से लड़ने की चुनौती है.

अफ़ग़ानिस्तान में लंबे समय से रक्षा मंत्री का पद खाली थी. बीबीसी संवाददाता के मुताबिक ये हमला सरकार को साफ़ संदेश देता है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार