'पाकिस्तानी ड्राइवर' ने जीती क़ानूनी जंग

इमेज कॉपीरइट Raja Naeem

अमरीका के सेंट लुईस शहर में पाकिस्तानी मूल के टैक्सी ड्राइवर राजा नईम ने बरसों से चल रही क़ानूनी लड़ाई जीत ली है.

उन्होंने शहर के टैक्सी कैब आयोग के उस नियम के ख़िलाफ़ अदालत का दरवाज़ा खटखटाया जिसके मुताबिक़ टैक्सी ड्राइवरों के लिए बटन वाली सफ़ेद शर्ट और काली पैंट पहनना ज़रूरी है.

लेकिन राजा नईम पाकिस्तानी लिबास सलवार-कुर्ता और सिर पर टोपी पहनकर टैक्सी चलाना चाहते हैं.

अब मिज़ूरी राज्य में स्थित सेंट लुईस शहर की अदालत ने फैसला सुनाया है कि राजा नईम अपनी धार्मिक अभिव्यक्ति के अनुसार कपड़े पहन सकते हैं और आयोग उन्हें वर्दी के बाध्य नहीं कर सकता.

धार्मिक आज़ादी

नईम का कहना है कि आयोग के नियम के अनुसार यूनिफ़ार्म पहन कर टैक्सी न चलाने के कारण उनका 30 से अधिक बार चालान हुआ है और वर्दी के नियम का उल्लंघन करने के कारण दो बार उन्हें पुलिस ने हिरासत में भी लिया. उनके मुताबिक टैक्सी आयोग ने उनका लाइसेंस भी रद्द कर दिया था.

इमेज कॉपीरइट RIA Novosti

लेकिन नईम ने हार नहीं मानी. उन्होंने इस मामले पर विरोध रैलिया कीं और फिर मामला अदालत में भी ले गए.

अमरीकी अदालतों के बारे में नईम कहते हैं, “यहां की अदालती प्रणाली से मुझे बहुत उम्मीद थी. अमरीका में अगर आप इंसाफ़ हासिल करने की कोशिश करते हैं तो इंसाफ ज़रूर मिलता है. और इसीलिए अमरीका दुनिया में अव्वल नंबर का देश है.”

राजा नईम ने मुकदमे में आरोप लगाया था कि उन्हें काम के दौरान अपना धार्मिक लिबास पहनने से रोका गया, जो उनकी धार्मिक आज़ादी का हनन है.

वहीं टैक्सी आयोग का कहना है कि धर्म का पालन करने से कोई नहीं रोक रहा था, बस वर्दी के रंग में फ़र्क का मामला है.

टैक्सी से ही गुज़ारा

इमेज कॉपीरइट Raja Naeem

टैक्सी आयोग ने राजा नईम को कुछ रियायत देते हुए घुटनों से कुछ ऊपर तक का सफ़ेद कुर्ता और काली पैंट पहनने की इजाज़त दी थी.

लेकिन नईम चाहते हैं कि वह सफेद शलवार और सफेद कुर्ता ही पहन कर टैक्सी चलाएं.

दो दशक पहले पाकिस्तान से अमरीका आने वाले 51 वर्षीय राजा नईम सेंट लुईस शहर के मेनचेस्टर इलाके में पत्नी और चार बेटियों के साथ रहते हैं और टैक्सी चलाकर परिवार का पालन पोषण कर रहे हैं.

अदालती फ़ैसले के बाद अब शहर के कई टैक्सी ड्राइवर भी अपना रवायती लिबास पहनकर टैक्सी चला सकते हैं.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार