रूस में मोदी और नवाज़ शरीफ़ की मुलाक़ात

नरेंद्र मोदी, नवाज़ शरीफ़ इमेज कॉपीरइट AFP
Image caption (फ़ाइल फ़ोटो)

भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और पाकिस्तान के प्रधानमंत्री नवाज़ शरीफ़ शुक्रवार को रूस के उफ़ा में द्विपक्षीय मुलाक़ात करेंगे.

दोनों देशों के नेता रूस के शहर उफ़ा में आयोजित शंघाई सहयोग संगठन शिखर सम्मेलन में शामिल हो रहे हैं.

भारतीय विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता विकास स्वरूप ने गुरुवार को ट्वीट किया, "इस बात की पुष्टि की जाती है कि पीएम नरेंद्र मोदी, पीएम शरीफ़ के साथ शंघाई सहयोग संगठन शिखर सम्मेलन के इतर द्विपक्षीय मुलाक़ात करेंगे."

उधर, इस्लामाबाद में पाकिस्तान के विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता क़ाज़ी ख़लीलुल्लाह ने कहा कि द्विपक्षीय वार्ता के दौरान अहम मुद्दों पर चर्चा होगी.

उन्होंने उम्मीद जताई कि दोनों नेताओं के बीच बातचीत से द्विपक्षीय रिश्तों पर सकारात्मक असर पड़ेगा.

एक सवाल के जवाब में ख़लीलुल्लाह ने कहा कि पाकिस्तान किसी भी तरह के छद्म युद्ध के ख़िलाफ़ है और पड़ोसी से अच्छे रिश्ते चाहता है. उन्होंने कहा कि पाकिस्तान सभी विवाद बातचीत से हल करना चाहता है.

एक साल बाद बातचीत

मोदी और शरीफ़ लगभग एक साल के बाद द्विपक्षीय बातचीत करेंगे.

इमेज कॉपीरइट AP
Image caption मोदी और शरीफ़ ने पिछली बार 27 मई 2014 को द्विपक्षीय बातचीत की थी

दोनों देशों के नेताओं के बीच पिछली द्विपक्षीय मुलाक़ात 27 मई 2014 को हुई थी, जब मोदी ने अपने शपथ ग्रहण समारोह में शरीफ़ समेत सभी दक्षिण एशियाई देशों के प्रमुखों को आमंत्रित किया था.

इसके बाद शरीफ़ और मोदी पिछले साल सितंबर में न्यूयॉर्क में संयुक्त राष्ट्र आम सभा के सत्र और काठमांडू में दक्षिण एशियाई क्षेत्रीय सहयोग संगठन (सार्क) के सम्मेलन में आमने-सामने हुए थे, लेकिन दोनों के बीच द्विपक्षीय बातचीत नहीं हुई थी.

उफ़ा में ब्राज़ील, रूस, भारत, चीन और दक्षिण अफ़्रीका (ब्रिक्स) का सम्मेलन भी गुरुवार से शुरू हुआ.

रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ब्रिक्स देशों के नेताओं की मेज़बानी कर रहे हैं.

नरेंद्र मोदी रूस समेत छह देशों की यात्रा पर हैं.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार