'बंदूकधारी के टेक्स्ट में जंग छेड़ने का ज़िक्र था'

अब्दुलअज़ीज़ इमेज कॉपीरइट EPA

अमरीका के टैनेसी में पांच नौसैनिकों पर गोलियां चलाने वाला बंदूकधारी मध्यपूर्व में संघर्षों से परेशान था और उसने कथित तौर पर एक मित्र को एक टेक्स्ट मैसेज में 'जंग छेड़ने' संबंधी एक आयत का ज़िक्र भी किया था.

कथित बंदूकधारी अब्दुलअज़ीज़ की गोलीबारी में गुरुवार को चार अमरीकी सैनिक मारे गए थे जबकि एक ने शनिवार को अस्पताल में दम तोड़ा.

अब्दुलअज़ीज़ की पुलिस के साथ मुठभेड़ में मौत ही गई थी.

समाचार एजेंसी रॉयटर्स ने मोहम्मद यूसुफ़ अब्दुलअज़ीज़ के कथित टेक्स्ट मैसेज की ख़बर जारी की है.

पुलिस का कहना है कि अभी इस बात की छानबीन की जा रही है. एफ़बीआई एजेंट एड रेनोल्ड के अनुसार, "बंदूकधारी के ऐसा करने के असल कारणों की बात करना जल्दबाज़ी होगी. हम विस्तृत जांच कर रहे हैं कि ये व्यक्ति अकेला था या नहीं, और इसे ऐसा करने के लिए उसे उकसाया गया या फिर हुक़म दिया गया."

आयत का उल्लेख

इमेज कॉपीरइट AP

रॉयटर्स के मुताबिक़ अब्दुलअज़ीज़ ने घटना से पिछली रात को एक दोस्त को टेक्स्ट मैसेज भेजा था. इस व्यक्ति की पहचान सार्वजनिक नहीं की गई है.

इस व्यक्ति ने रॉयटर्स को बताया कि टेक्सट मैसेज में हदीस की एक आयत का उल्लेख था.

इस आयत के मुताबिक़, 'जो मेरे दोस्त के साथ दुश्मनी रखेगा, मैं उसके ख़िलाफ़ युद्ध छेड़ दूंगा.'

रॉयटर्स के अनुसार अब्दुलअज़ीज़ पिछले साल जॉर्डन गए थे और मध्यपूर्व में चल रहे संघर्षों से बेहद गुस्से में थे.

(बीबीसी हिंदी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)