एमएच370 का 'मलबा' मिला

इमेज कॉपीरइट AFP

हिंद महासागर में मौजूद एक द्वीप पर मलेशिया ने एक टीम भेजी है जो वहां मिले एक जहाज़ के मलबे की जांच करेगी. टीम यह पता लगाने की कोशिश करेगी कि कहीं यह मलबा लापता विमान एमएच370 का तो नहीं है.

विमानन विशेषज्ञों का कहना है कि मलबा लापता विमान के पंख का एक हिस्सा जैसा लग रहा है जिसे फ़्लैपरॉन कहा जाता है.

छह फ़ीट लंबा यह मलबा मैडागास्कर से क़रीब 600 किलोमीटर दूर बुधवार को इस द्वीप पर बह कर आ गया था.

कुछ भी कहना जल्दबाज़ी

इमेज कॉपीरइट AP

हालांकि मलेशिया एयरलाइंस ने कहा कि मलबे के बारे में कुछ भी कहना जल्दबाज़ी होगी. यह विमान मार्च 2014 में कुआला लंपुर से बीजिंग जा रहा था जब यह अचानक लापता हो गया.

इसमें विमान के क्रू समेत 239 लोग सवार थे, जिसमें 227 यात्री थे.

मलेशिया के परिवहन मंत्री लियो टॉन्ग ने कहा, ''जो भी मलबा मिला है पहले उसकी पहचान होना ज़रूरी है उसके बाद ही हम कुछ कह पाएंगे.''

उन्होंने आगे कहा, ''इसीलिए हमने एक टीम को मौक़े पर भेज दिया है जो जल्द से जल्द इस बात की जांच कर हमें सूचित करेगी.''

जगी है उम्मीद

वहीं दूसरी तरफ़ एक अमरीकी अधिकारी ने एपी न्यूज़ एजेंसी को बताया, ''उस मलबे को देखकर हमें काफ़ी उम्मीद जगी है कि वो मलबा एमएच370 के पंख का हिस्सा हो सकता है.''

वहीं ऑस्ट्रेलिया के इंफ्रास्ट्रक्चर मंत्री वॉरेन ट्रस ने कहा, ''अगर यह मलबा उसी विमान का निकलता है तो यह बात और भी पुख़्ता हो जाएगी कि एमएच370 दुर्घटनाग्रस्त होने के बाद दक्षिणी हिंद महासागर में ही डूबा था.''

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार