'रूफ़ ऑफ़ नॉर्वे' का रोमांच भरा सफ़र

इमेज कॉपीरइट Stuart Butler

नॉर्वे अपनी ख़ूबसूरत पहाड़ियों, समुद्र तट से सटे संकरे रास्तों और जंगलों के लिए दुनियाभर में मशहूर हैं.

नॉर्वे की ख़ूबसूरती देखनी का सबसे आसान रास्ता है सोगनेफ़जेलेट रोड की यात्रा. यह सड़क 'रोड ओवर द रूफ़ ऑफ़ नॉर्वे' के नाम से मशहूर है.

इमेज कॉपीरइट Stuart Butler

यह नॉर्वे के 18 राष्ट्रीय पर्यटक मार्गों में से एक है. 108 किलोमीटर लंबी ये सड़क नॉर्वे की दो बड़ी पहाड़ियों को जोड़ती है. इसके रास्ते में गहरी झीलें और पश्चिम समुद्रीतट का इलाका है. इतना ही नहीं यह जोटूनहेमेन नेशनल पार्क के उत्तरी सिरे से भी जुड़ा है.

इमेज कॉपीरइट Stuart Butler

सोगनेफ़जेलेट रोड पर्वतीय शहर लोम से शुरू होती है. यह बोवर नदी के साथ ही आगे बढ़ती है. आगे बढ़ते ही पहाड़ियों घाटियों का सिलसिला शुरू हो जाता है. बीच बीच में आपको बर्फ से ढकी चोटियां भी नजर आती रहती हैं. इस सड़क पर जाड़े के महीनों में कई मीटर बर्फ जम जाती है, लिहाजा इसे केवल मई और सितंबर की गर्मियों के बीच खोला जाता है. मैंने अगस्त के पहले सप्ताह में यात्रा की, तब सड़क के दोनों ओर बैंगनी रंग के फूलों की कतार थी.

इस सड़क से सटा है जोटूनहेमेन नेशनल पार्क. ये 1,151 वर्ग किलोमीटर के दायरे में फैला है और इस पार्क में करीब 275 पर्वत मौजूद हैं जिनकी औसत ऊंचाई 2000 मीटर से ज़्यादा हैं. इनमें 2,469 मीटर की ऊंचाई वाला गाल्डोपिगन भी शामिल है.

इमेज कॉपीरइट Stuart Butler

गाल्डोपिगन उत्तरी यूरोप की सबसे ऊंची चोटी है. 2,403 मीटर ऊंचा स्टोर स्कागा स्टोलिस्टंड नॉर्वे की तीसरी सबसे ऊंची पर्वत चोटी है और सोगनेफ़जेलेट रोड का बड़ा हिस्सा इस चोटी के साये से गुजरता है.

इमेज कॉपीरइट Stuart Butler

लोम से 37 किलोमीटर पश्चिम से सोगनेफ़जेलेट रोड पर क्रोसबू टूरिस्ट स्टासजन माउंटेन लॉज है. तस्वीर में लॉज नज़र आ रही है. यहां से जोटूनहेमेन नेशनल पार्क पहुंचा जा सकता है. लॉज से वहां तक पहुंचना आसान माना जाता है लेकिन इसके लिए आपको 6 किलोमीटर की बेहद मुश्किल चढ़ाई, ख़ुद चढ़नी होती है. दूसरे विकल्प के हिसाब से चलें तो तीन दिनों में आप वहां तक पहुंच सकते हैं. इस दौरान आपको स्कोगाडालसबोएन और वेटिसफोसिन में बनी हट्स में ठहरना होता है.

इमेज कॉपीरइट Stuart Butler

यह पार्क आर्कटिक सर्किल के दक्षिण में स्थित है. इसकी ऊंचाई मध्य नॉर्वे की ऊंचाई जितनी है. इसके चलते यहां आर्कटिक जलवायु ही देखने को मिलती है. आर्कटिक वन्य जीव और पौधों की पार्क में बहुतायत है. यहां गर्मी बहुत कम दिनों की होती है. जुलाई से मध्य अगस्त के बीच करीब डेढ़ महीने ही गर्मी का मौसम होता है, जबकि सर्दियां लंबी होती हैं.

वैसे इस रोड पर आकर्षण का सबसे बड़ा केंद्र है समोरस्टैबबरीन झील. लोम से 49 किलोमीटर पश्चिम में स्थित है ये झील. सोगनेफ़जेलेट 1,434 मीटर की ऊंचाई पर स्थित है और इसे उत्तरी यूरोप की सबसे ऊंची रोड भी माना जाता है.

इमेज कॉपीरइट Stuart Butler

इस क्षेत्र से प्रभावित होकर ही नॉर्वे के कवि आसमंड ओलावस्सन ने ख़ूबसूरती का विवरण किया है. उन्होंने लिखा कि किस तरह से 'दुनिया भर में विचित्र और भीमकाय जीव जंतुओं का वास था, लेकिन इंसानों ने जब आग की खोज की तब उन्होंने भीमकाय जानवरों का नॉर्वे के उत्तरी छोर तक पीछा किया है, रास्ते में विशाल जीवों के जो आंसू गिरे वही जमकर पर्वत और झील बन गए.'

आसमंड की बातें भले कल्पनाशीलता की उपज रही हों, लेकिन हकीकत यही है कि इस सड़क से आपको नॉर्वे की तमाम ख़ूबसूरती ऐसे नज़र आती है, मानो आप एक छत से खड़े होकर पूरे देश को देख रहे हों.

अंग्रेज़ी में मूल लेख यहां पढ़ें, जो बीबीसी ट्रैवल पर उपलब्ध है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार