यूरोटनल में घुसने वालों की तादाद घटी

eurotunnel इमेज कॉपीरइट Getty

फ्रांसीसी शहर कैले के नज़दीक यूरोटनल में चोरी छिपे घुसने वाले प्रवासियों की तादाद में कमी आई है.

यूरोटनल चलाने वाली कंपनी ने कहा है कि बीते महीने के अंत में रोज़ाना दो हज़ार लोग ग़ैर क़ानूनी ढंग से टनल में घुसने की कोशिश करते थे, अब यह संख्या घट कर 150 हो गई है.

कंपनी के मुताबिक़ कड़ी सुरक्षा की वजह से ऐसा हुआ है.

अप्रवासी रात में यूरोटनल की सुरंग के ज़रिए चैनल पार कर ग़ैर क़ानूनी ढंग से ब्रिटेन में घुसने की कोशिश करते हैं.

इंग्लिश चैनल के नीचे से गुज़रने वाली इसी सुरंग से हो कर यूरोटनल की ट्रेनें फ्रांस और ब्रिटेन को जोड़ती हैं.

जान पर खेलते प्रवासी

इमेज कॉपीरइट Getty

यूरोटनल को आए दिन ऐसे प्रवासियों से निपटना पड़ता है, जो सुरंग के ज़रिए ग़ैर कानूनी तरीक़े से ब्रिटेन में दाखिल होना चाहते हैं.

कई लोगों के लिए इसके नतीजे घातक होते हैं.

प्रवासियों की वजह से यूरोटनल रेल सेवा कई बार प्रभावित होती है और ट्रेनें देर से चलती हैं.

ब्रिटेन ने लगाई बाड़

इमेज कॉपीरइट Getty

ब्रितानी सरकार का कहना है कि वह यूरोटनल की सुरक्षा पर 70 लाख पाउंड खर्च कर रही है, लेकिन अभी और कई कदम उठाए जाने की ज़रूरत है.

प्रवासियों को यूरोटनल के प्लेटफॉर्म तक पंहुचने और ट्रेनों में घुसने से रोकने के लिए ब्रिटेन ने बाड़ लगवाई है.

बाड़ के मुख्य हिस्सों की निगरानी के लिए सीसीटीवी कैमरे, इंफ्रारेड डिटेक्टर और फ़्लड लाइट भी लगाए गए हैं.

दूसरी ओर, फ़्रांस की पुलिस का कहना है बाड़ से समस्या थोड़े दिनों के लिए ही टाली जा सकती है.

जून से अब तक सुरंग के ज़रिए ब्रिटेन में ग़ैर क़ानूनी रूप से घुसने की कोशिश कर रहे नौ लोगों की मौत हो चुकी है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार