तेहरान में फिर खुला ब्रितानी दूतावास

इमेज कॉपीरइट AP

ईरान की राजधानी तेहरान में लगभग चार साल बाद फिर से ब्रितानी दूतवास खुला है.

इस मौक़े पर ब्रितानी विदेश मंत्री फिलिप हेमंड भी मौजूद थे. वो पिछले 12 साल में ईरान का दौरा करने वाले पहले ब्रितानी विदेश मंत्री हैं.

उन्होने ट्वीट किया कि तेहरान में ब्रितानी दूतावास का खुलना 'ब्रिटेन-ईरान सबंधों में एक ऐतिहासिक पल' है.

तेहरान में ब्रितानी दूतावस को चार साल पहले उस वक्त बंद कर दिया गया था जब ईरान पर प्रतिबंधों का विरोध कर रहे प्रदर्शनकारी दूतावास में घुस गए थे.

लंदन में भी जल्द ईरानी दूतवास खुलेगा.

हाल ही में अमरीका समेत दुुनिया के छह देशों के साथ हुए ईरान के परमाणु समझौते के बाद वहां ब्रितानी दूतावास खोला गया है.

शुरू में, ब्रितानी दूतावास के प्रमुख एक प्रभारी स्तर के अधिकारी अजय शर्मा होंगे. बाद में यहां राजदूत की तैनाती के लिए दोनों देशों के बीच बातचीत होगी.

अहम पड़ाव

इमेज कॉपीरइट AFP

हेमंड का कहना है कि ब्रिटेन और ईरान के बीच रिश्ते सुधारने में परमाणु समझौता और जून में 2013 हसन रूहानी का राष्ट्रपति बनना महत्वपूर्ण पड़ाव साबित हुए.

इमेज कॉपीरइट

उन्होंने कहा, "ईरान में ब्रितानी दूतावास का फिर से खोला जाना दोतरफा रिश्तों को बेहतर बनाने की ओर महत्वपूर्ण क़दम है."

उनका यह मानना भी है कि दोनों देशों को सबसे पहले व्यापार और निवेश को बढ़ावा देते हुए परमाणु समझौते को कामयाब बनाना होगा

हेमंड ने कहा, "ब्रिटेन और ईरान को आतंकवाद, क्षेत्रीय स्थिरता, सीरिया और इराक़ में आईएस के बढ़ते प्रभाव, नशीली दवाओं और प्रवासन पर भी चर्चा के लिए तैयार रहना होगा."

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार