आईएस ने ध्वस्त मंदिर की तस्वीरें जारी कीं

पल्माइरा इमेज कॉपीरइट
Image caption पल्माइरा पर किए गए विस्फोट की तस्वीर

चरमपंथी संगठन इसलामिक स्टेट नें पल्माइरा के एक प्राचीन मंदिर बाल्शेमिन को विस्फोटकों से गिराए जाने की तस्वीरें जारी की हैं.

ये तस्वीरें आईएस प्रचार के लिए इस्तेमाल किए जा रहे ट्विटर अकाउंट्स पर जारी की गई हैं.

एक तस्वीर में चरमपंथी पहले इस मंदिर में विस्फोटकों को लगाते हुए दिख रहे हैं.

और फिर धमाके की तस्वीर है.

सीरिया के अधिकारियों ने सोमवार को कहा था कि मंदिर को विस्फोट में उड़ा दिया गया है.

संयुक्त राष्ट्र के सांस्कृतिक संगठन यूनेस्को के मुताबिक, सीरिया की सांस्कृतिक धरोहर को यूं नष्ट करना एक युद्ध अपराध है.

यूनेस्को ने पिछले हफ्ते पल्माइरा के सेवानिवृत्त प्रमुख पुरातत्ववेत्ता खालिद अल असद का आईएस द्वारा सर क़लम करने पर भी रोष ज़ाहिर किया था.

खालिद अल असद ने दशकों तक इस प्राचीन स्थल की देखभाल की थी और उन्होंने आईएस का सहयोग करने से इनकार कर दिया था.

मलबे का ढेर

इमेज कॉपीरइट
Image caption पल्माइरा के सबसे पुराने स्थल की 2014 की तस्वीर

बाल्शेमिन का मंदिर करीब 2000 साल पुराना था और पल्माइरा के प्राचीन स्थल में दूसरी सबसे अहम इमारत थी.

सीरिया के प्राचीन वस्तुओं से जुड़े विभाग के निदेशक मामून अब्दुल करीम ने बताया कि आईएस के चरमपंथियों ने इस मंदिर में बड़ी मात्रा में विस्फोटक लगा दिए थे.

रविवार को उन्होंने इसे उड़ा दिया. इस विस्फोट से मंदिर का गर्भगृह और उसके चारों ओर लगे खंबे ढह गए.

इन तस्वीरों की अलग से पुष्टि नहीं हो सकी है लेकिन इनमें वो प्रतीक चिन्ह लगा है जिसका इस्तेमाल आईएस ने पल्माइरा से अक्सर किया है.

आईएस ने पल्माइरा पर मई में कब्ज़ा कर लिया था.

इस चरमपंथी गुट ने इसी तरह के प्राचीन स्थलों को इराक में भी नष्ट किया है. उनके मुताबिक ये स्थल मूर्ति पूजा के प्रतीक हैं.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार