बोको हराम के दस सदस्यों को मौत की सज़ा

इमेज कॉपीरइट BBC World Service

अफ्रीकी देश चाड में चरमपंथी संगठन बोको हराम के दस सदस्यों को मौत की सज़ा सुनाई गई है.

राजधानी निजामेय में तीन दिनों तक चरमपंथी गतिविधियों के आरोपों में चले मुकदमे के बाद इस सज़ा की घोषणा की गई.

इन लोगों को जून महीने में निजामेय में हुए दो हमलों का दोषी ठहराया गया जिसमें कम से कम 38 लोग मारे गए.

मुख्यतः नाइजीरिया में सक्रिय बोको हराम के ये चाड में पहले हमले थे.

इमेज कॉपीरइट AP

चाड में ही बोको हराम से लड़ने के लिए बनाए गए क्षेत्रीय बल का मुख्यालय है.

जुलाई में चाड में चरमपंथी गतिविधियों के लिए मौत की सज़ा का प्रावधान किया गया है.

विपक्ष और कई नागरिक अधिकार समूह इस नए क़ानून का विरोध कर रहे हैं.

उनका कहना है कि इसका इस्तेमाल आम लोगों के अधिकारों को नियंत्रित करने के लिए किया जा सकता है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)