ग्वाटेमाला के पूर्व राष्ट्रपति पहुंचे जेल

ग्वाटेमाला के पूर्व राष्ट्रपति ओटो पेरेज़ मोलिना इमेज कॉपीरइट Reuters

ग्वाटेमाला में एक अदालत ने भ्रष्टाचार के मामले की जाँच पूरी होने तक पूर्व राष्ट्रपति ओतो पेर्रेस मोलीना को जेल में रखने के आदेश दिए हैं.

करोड़ों डॉलर के भ्रष्टाचार के आरोपों का सामना कर रहे पेर्रेस मोलीना ने गुरुवार को ही राष्ट्रपति पद से इस्तीफ़ा दिया है.

इससे पहले, मंगलवार को देश की संसद ने पेर्रेस मोलीना को क़ानूनी कार्रवाई से मिली छूट को वापस ले लिया था.

इसके बाद देश के महाधिवक्ता कार्यालय ने उन पर आपराधिक मामला दायर किया.

पेर्रेस मोलीना भ्रष्टाचार के सभी आरोपों को नकारते रहे हैं.

रविवार को चुनाव

उपराष्ट्रपति एलेजांद्रो मोल्दोनादो को कार्यवाहक राष्ट्राध्यक्ष नियुक्त किया गया है.

ग्वाटेमाला में रविवार को राष्ट्रपति चुनाव के लिए चुनाव होना है.

पेर्रेस मोलीना का इस्तीफ़ा और गिरफ़्तारी देश में चल रहे भ्रष्टाचार विरोधी आंदोलन के लिए एक बड़ी जीत है.

हाल के महीनों में ग्वाटेमाला के मुख्य शहरों में भ्रष्टाचार के ख़िलाफ़ रैलियां निकाली गई हैं.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)