सीरियाः ड्रोन हमले में दो ब्रितानी 'जिहादी' मारे गए

रियाद ख़ान और रुहुल अमीन इमेज कॉपीरइट
Image caption रियाद ख़ान और रुहुल अमीन आईएस की तरफ से लड़ने के लिए सीरिया गए थे.

ब्रिटेन के प्रधानमंत्री डेविड कैमरन ने बताया है कि सीरिया में मारे गए इसलामिक स्टेट के दो ब्रितानी जिहादी ब्रिटेन की रॉयल एयरफोर्स के ड्रोन हमले में मारे गए हैं.

डेविड कैमरन ने सांसदों को बताया कि पिछले महीने रक़्का में पहली बार ब्रिटेन ने ब्रितानी नागरिकों को ड्रोन हमले का निशाना बनाया.

इसमें 21 वर्षीय रियाद ख़ान और एबरडीन के रुहुल अमीन मारे गए.

रियाद ख़ान ब्रिटेन में एक भयानक हमला करने का षड्यंत्र बना रहा था.

'आत्मरक्षा की कार्रवाई'

इमेज कॉपीरइट
Image caption जुनैद हुसैन को बड़ा 'साइबर जिहादी' माना जाता था

प्रधानमंत्री ने कहा कि हालांकि सीरिया में सैन्य कार्रवाई पर सांसद राज़ी नहीं थे लेकिन 'आत्मरक्षा के लिए की गई ये कार्रवाई' पूरी तरह से कानूनी थी.

21 अगस्त को कुशल योजना के तहत ख़ान को रिमोट चालित एयक्राफ्ट से निशाना बनाया गया और जब वह एक वाहन में था तो उसे मार दिया गया.

24 अगस्त को दूसरे ब्रितानी नागरिक, बर्मिंघम के 21 वर्षीय जुनैद हुसैन को रक़्का में अमरीकी बलों के एक दूसरे हमले में मारा गया.

प्रधानमंत्री के मुताबिक, ख़ान और हुसैन दोनों ही आईएस के हमदर्दों की भर्ती करने में सक्रिय थे और इसी साल ब्रिटेन में होने वाले बड़े सार्वजनिक महोत्सवों पर हमला करने की साज़िश कर रहे थे.

राष्ट्रहित में थी सैन्य कार्रवाई

इमेज कॉपीरइट AFP
Image caption ब्रिटेन के प्रधानमंत्री डेविड कैमरन

दो साल पहले ब्रितानी सांसदों ने सीरिया में ब्रिटेन की सैन्य कार्रवाई की संभावना को खारिज कर दिया था.

लेकिन पिछले सितंबर में उन्होंने इराक में आईएस ठिकानों पर हवाई हमलों में ब्रिटेन की भागीदारी को मंज़ूरी दे दी थी.

बहरहाल, अधिकारियों ने कहा है कि अगर गंभीर राष्ट्र हित दांव पर लगा हो तो ब्रिटेन सीरिया में पहले तत्काल कार्रवाई करेगा और बाद में संसद को इसका ब्योरा देगा.

प्रधानमंत्री कैमरन ने इस बात की पुष्टि की कि आधुनिक दौर में ऐसा पहली बार हुआ है एक ऐसे देश में जहां ब्रिटेन युद्ध में शामिल नहीं है, वहां हमला करने के लिए ब्रितानी एयरक्राफ्ट का इस्तेमाल किया गया.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार