पाँच महीनों में 5 लाख बच्चों का पलायन

बोको हराम के कारण विस्थापित बच्चे इमेज कॉपीरइट AFP
Image caption बोको हराम के कारण विस्थापित बच्चे राहत शिविर में

बच्चों के लिए काम करने वाली संस्था संयुक्त राष्ट्र बाल कोष (यूनिसेफ़) का कहना है कि इस्लामिक गुट बोको हराम के कारण नीइजीरिया में कम से कम पाँच लाख बच्चों को पलायन करना पड़ा है. यह केवल पिछले पाँच महीनों के आंकड़े हैं.

यूनिसेफ़ का कहना है कि नाइजीरिया और इसके पड़ोसी देशों से विस्थापित होने वाले बच्चों की संख्या 14 लाख तक पहुंच गई है.

कई हज़ार बच्चे कुपोषण के शिकार हैं जबकि कुछ राहत शिविरों में हैजा का संक्रमण भी हुआ है.

इमेज कॉपीरइट AFP

एक प्रेस विज्ञप्ति में यूनिसेफ़ ने कहा है, ''केवल उत्तरी नाइजीरिया में क़रीब 12 लाख बच्चे घर छोड़ कर भागने को बाध्य हुए हैं. इनमें से आधे से अधिक पाँच साल से कम उम्र के हैं.''

कैमरून, चाड और नीजेर से 2,65,000 बच्चे विस्थापित हुए हैं.

नाइजीरिया में बीबीसी संवाददाता विल रॉस का कहना है कि इन अंदरुनी इलाकों में मदद पहुंचाना बेहद मुश्किल है.

इमेज कॉपीरइट Reuters

हालांकि सेना ने बोको हराम के कब्ज़े से आख़िरी कुछ शहरों को मुक्त कर लिए हैं लेकिन विस्थापित हुए लोग अभी भी अपने घरों में लौटना नहीं चाहते.

इलाके से बाहर निकाले जाने के बाद बोको हराम के चरमपंथियों ने गुरिल्ला युद्ध के तरीकों को अपनाया है.

इमेज कॉपीरइट AP
Image caption नाइजीरिया में आर्मी की मदद से हज़ारों लोग बचाए गए हैं.

वे गांव की ओर आने वाली रसद पर हमला करते हैं. गांव में पूजा स्थलों और बाज़ार और बस स्टेशन जैसे सार्वजनिक स्थानों पर भी हमले करते हैं.

यूनिसेफ़ इन इलाकों में कुपोषित बच्चों का इलाज और पीने का साफ़ पानी मुहैया कराता है. यह हज़ारों बच्चोे की पढ़ाई जारी रखने की दिशा में भी काम करता है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भीकर सकते हैं.)

संबंधित समाचार