ओबामा ने अस्पताल हमले पर माफ़ी मांगी

कुंदूज़ में एमएसएफ़ के अस्पताल पर हमला इमेज कॉपीरइट MSF
Image caption कुंदूज़ में एमएसएफ़ के अस्पताल पर हमले में एमएसएफ़ के 12 कर्मचारियों समेत 22 लोग मारे गए थे.

अमरीकी राष्ट्रपति बराक ओबामा ने स्वास्थ्य सेवाएं देने वाली अंतरराष्ट्रीय संस्था डॉक्टर्स विदाउट बॉर्डर्स (एमएसएफ़) के अध्यक्ष से कुंदूज़ में हुए हमले पर माफ़ी मांगी हैं.

कुंदूज़ में एमएसएफ़ के अस्पताल पर अमरीकी हवाई हमले में कम से कम 22 लोग मारे गए थे.

अमरीका ने स्वीकार किया है कि कुंदूज़ में अस्पताल पर हुआ हमला ग़लत था.

अमरीका ने कहा है कि उसके निशाने पर तालिबान थे.

'युद्ध अपराध ...'

एमएसएफ़ इस बमबारी की युद्ध अपराध के तौर पर जांच चाहती है.

इमेज कॉपीरइट Getty
Image caption ओबामा ने बुधवार को फ़ोन कर एमएसएफ़ अध्यक्ष से माफ़ी मांगी.

ओबामा ने अफ़ग़ानिस्तान के राष्ट्रपति से भी माफ़ी मांगी है.

व्हाइट हाऊस के प्रवक्ता जोश अर्नेस्ट ने कहा, "यदि इस हमले के लिए लोगों को ज़िम्मेदार ठहराना ज़रूरी हुआ तो यह भी किया जाएगा."

अर्नेस्ट ने कहा, "राष्ट्रपति ओबामा ने एमएसएफ़ की अध्यक्ष जोआना लियू से संवेदना प्रकट की है."

अर्नेस्ट ने हमले में मारे गए लोगों के परिजनों को हर्जाना दिए जाने के संकेत भी दिए.

इमेज कॉपीरइट Reuters
Image caption एमएसएफ़ का कहना है कि हवाई हमला ग़लती नहीं हो सकता है.

'अमरीकी जांच पर भरोसा नहीं'

एक बयान में एमएसएफ़ ने कहा है कि उन्हें माफ़ी मिल गई है लेकिन वो अब भी इस हमले की अंतरराष्ट्रीय जांच की मांग पर अडिग हैं.

एमएसएफ़ का कहना है कि वह बमबारी पर अमरीकी सेना की आंतरिक जांच पर भरोसा नहीं करेंगे.

एमएसएफ़ का कहना है कि अस्पताल कहां है इससे सेना भलीभांति परिचित थी और हमला ग़लती से नहीं हुआ है.

अमरीका के न्याय विभाग, पेंटागन, नेटो और अमरीका-अफ़ग़ानिस्तान का एक दल इस मामले में जाँच कर रहे हैं.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार