सलमान तासीर के हत्यारे की सज़ा बरक़रार

इमेज कॉपीरइट Reuters

पाकिस्तान में सुप्रीम कोर्ट ने पंजाब प्रांत के गवर्नर सलमान तासीर की हत्या के दोषी मुमताज़ क़ादरी की मौत की सज़ा को बरक़रार रखा है.

मुमताज़ क़ादरी सलमान तासीर के अंगरक्षक थे, लेकिन उन्होंने राजधानी इस्लामाबाद में 2011 में ईशनिंदा क़ानून के ख़िलाफ़ बोलने पर तासीर की गोली मारकर हत्या कर दी थी.

पाकिस्तान में बहुत से कट्टरपंथी क़ादरी को एक नायक समझते हैं. एक बार जब वो मुक़दमे के लिए अदालत में आए, तो कई वकीलों ने क़ादरी के ऊपर गुलाब की पत्तियां बरसाईं.

मानवाधिकार संगठन

क़ादरी की मौत की सज़ा के ख़िलाफ़ अपील के ख़ारिज हो जाने को मानवाधिकार संगठनों की जीत माना जा रहा है.

मानवाधिकार संगठनों का कहना है कि पाकिस्तान के विवादास्पद ईशनिंदा क़ानून को निजी रंजिश निकालने के लिए इस्तेमाल किया जाता है.

तासीर ने राष्ट्रपति से ईशनिंदा क़ानून के तहत मौत की सज़ा पाने वाली एक ईसाई महिला को माफ़ी देने की अपील की थी.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार