विमान हादसा: रूस ले जाए गए 140 शव

विमान का मलबा. इमेज कॉपीरइट AP

मिस्र में शनिवार को रूसी विमान के गिरने से मारे गए 224 लोगों में से 140 से अधिक के शव रूस ले जाए गए हैं.

मिस्र के सिनाई प्रायद्वीप में दुर्घटना ग्रस्त विमान एयरबस 321 में सवार सभी लोगों की मौत हो गई थी. मृतकों में 217 रूसी पर्यटक थे.

इस घटना के बाद रविवार को रूस में राष्ट्रीय शोक का दिन रहा.

इमेज कॉपीरइट Getty

रूसी एअर ट्रैफ़िक एजेंसी के प्रमुख अलेक्ज़ांडर नेरादको ने कहा था कि विमान आसमान में उड़ाने भरते हुए ही टूट गया था.

मिस्र के राष्ट्रपति अब्देल फ़तह अल-सीसी ने कहा है कि जब तक जांचकर्ता इस हादसे के असल कारणों का पता लगाते हैं, तब तक सभी को सब्र बनाए रखना चाहिए.

हादसे के बाद इस्लामी चरमपंथी संगठन इस्लामिक स्टेट से जुड़े लोगों ने सोशल मीडिया पर दावा किया था कि उन्होंने ही इस विमान को गिराया था.

मिस्र के प्रधानमंत्री शरीफ़ इस्माइल ने इसका खंडन किया और कहा कि 9450 मीटर की ऊंचाई पर उड़ रहे विमान को चरमपंथी अपने पास मौजूद हथियारों से नहीं गिरा सकते हैं.

इस दावे की पुष्टि के लिए आईएस ने कोई तस्वीर या वीडियो पेश नहीं किया था.

हादसे के बाद एमिरेट्स, एअर फ्रांस, लुफ्थांसा और क़तर एअरवेज़ ने सिनाई प्रायद्वीप के ऊपर से उड़ान न भरने का फ़ैसला किया है.

वहीं फ़्लाई दुबई और एअर अरेबिया ने कहा है कि वो अपनी उड़ानों का मार्ग नए सिरे से तय करेंगे.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)