नर पांडा मिमियाते हैं और मादा चहकती है...

पांडा इमेज कॉपीरइट Getty

चीन में वैज्ञानिक विशाल पांडा की 13 आवाज़ों का अर्थ समझने में कामयाब हो गए हैं.

शिन्हुआ समाचार एजेंसी की रिपोर्ट के अनुसार, दक्षिण-पश्चिम सिचुआन प्रांत के एक संरक्षण केंद्र में पांच साल तक किए गए अध्ययन के बाद शोधकर्ताओं को पता लगा कि नर पांडा जब प्रणय निवेदन करते हैं तो एक भेड़ की तरह मिमियाते हैं और इसके जवाब में जब मादा उत्सुक होती हैं तो चिड़िया की तरह चूं-चूं करती हैं या चहकती हैं.

चीन के विशाल पांडा के संरक्षण और शोध केंद्र में यह अध्ययन किया गया.

इमेज कॉपीरइट Binbin Li

इस केंद्र के प्रमुख झ़ांग हेमिन कहते हैं, "विश्वास करो- जब हमने इस परियोजना पर काम शुरू किया तो हमारे शोधकर्ता इतने भ्रमित थे कि उन्हें समझ नहीं आ रहा था कि हम पक्षी का अध्ययन कर रहे हैं, या कुत्ते का या भेड़ का."

वेबसाइट की रिपोर्ट के अनुसार पांडा शिशु अपनी नाख़ुशी ज़ाहिर करने के लिए 'वाव-वाव' जैसी आवाज़ निकालते हैं और अपनी मां को यह बताने के लिए कि उन्हें भूख लगी है 'गी-गी' करते हैं.

शोध केंद्र के कर्माचारियों ने इन जानवरों को कई अलग-अलग स्थानों पर रिकॉर्ड किया. उस समय भी जब वह खा रहे थे, लड़ रहे थे और बच्चों की देखरेख कर रहे थे. फिर उन आवाज़ों का अध्ययन किया.

इमेज कॉपीरइट Binbin Li

झ़ांग कहते हैं कि यह समझने से कि पांडा कैसे संवाद करते हैं, इन लुप्तप्राय जानवरों के संरक्षण में, विशेषकर जंगल में, मदद मिलेगी.

शिन्हुआ के अनुसार केंद्र को उम्मीद है कि वॉयस-रिग्निशन तकनीक की मदद से एक 'पांडा ट्रांस्लेटर' ईजाद किया जा सकेगा.

सिर्फ़ चीन में ही पाए जाने वाले विशाल पांडा, अब जंगलों में सिर्फ़ 1,800 रह गए हैं. 300 से ज़्यादा दुनिया भर के संरक्षण गृहों और चिड़ियाघरों में हैं.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार