सीरिया में बमबारी, 33 आईएस लड़ाकों की मौत

सीरिया में हमले तेज़ इमेज कॉपीरइट AP

पिछले तीन दिनों से सीरिया के रक्का में हो रहे हमलों में चरमपंथी संगठन इस्लामिक स्टेट के करीब 33 लड़ाकों की मौत हो गई है.

फ्रांस और रूस ने आईएस की स्वघोषित राजधानी रक्क़ा में हवाई और मिसाइल हमले तेज़ कर दिए हैं.

मानवाधिकार संस्था सीरियन ऑब्ज़रवेट्री फ़ॉर ह्यूमन राइट्स के मुताबिक ज़्यादातर मौतें रक्क़ा में और उसके आस-पास हुई हैं.

पेरिस में 13 नवंबर के हमलों में 129 लोगों की मौत हो गई थी और आईएस ने हमलों की ज़िम्मेदारी ली थी.

उधर रूस ने सिनाई में उसके विमान को गिराए जाने को आतंकवादी घटना बताया है. रूसी विमान हादसे 224 लोगों की मौत हुई थी.

इमेज कॉपीरइट Getty

पेरिस हमलों के बाद फ्रांस नेे आईएस को तबाह करने की बात कही है जिसे अंतरराष्ट्रीय स्तर पर समर्थन मिल रहा है.

ऐसे में आईएस के नेताओं के परिवार भी रक्क़ा शहर छोड़कर जा रहे हैं.

इमेज कॉपीरइट EPA

वहीं तुर्की भी सीरियाई सीमा से आईएस को खदेड़ने की योजना बना रहा है.

आईएस के पास सीरिया-तुर्की सीमा पर करीब सौ किलोमीटर का इलाका है जिससे आईएस को बाहरी देशों से संपर्क साधने में आसानी होती है.

तुर्की के विदेश मंत्री फ़ेरीदुन सिनिर्लओलु ने कहा कि अब तुर्की इसे और बर्दाश्त नहीं कर सकता.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार