मालीः 'होटल में अब कोई बंधक नहीं'

mali_bamako_hostage_rescue इमेज कॉपीरइट EPA

माली के अधिकारियों का कहना है कि राजधानी बमाको के होटल में 'अब कोई बंधक नहीं है'.

शुक्रवार सुबह होटल रेडिसन ब्लू में इस्लामिस्ट बंदूकधारियों ने हमला कर 170 लोगों को बंधक बना लिया था.

अधिकारियों के अनुसार कम से कम तीन लोग मारे गए हैं और दो सैनिक घायल हो गए हैं.

इमेज कॉपीरइट EPA

मरने वालों में से एक की पहचान बेल्जियम के वालोनिया क्षेत्र की संसद के सदस्य जियोफ़्री डीयडोने के रूप में हुई है.

अमरीकी स्पेशल फ़ोर्सेस ने बचाव कार्य में मदद की. फ्रांसीसी स्पेशल फ़ोर्सेस को भी मौके पर रवाना किया गया था.

अमरीकी स्वामित्व वाला यह होटल विदेशी व्यवसाइयों और एयरलाइन कर्मचारियों में काफ़ी लोकप्रिय है.

इमेज कॉपीरइट EPA

बंधकों में 20 भारतीय भी थे, लेकिन वह एक अलग इमारत में होने के कारण सुरक्षित थे और अब वह होटल से बाहर एक सुरक्षित स्थान पर हैं.

भारतीय विदेश मंत्रालय के एक सूत्र के अनुसार "वे (भारतीय) एक निजी कंपनी के कर्मचारी हैं. हम उनके संपर्क में हैं. माली में क़रीब 200 भारतीय हैं."

शुक्रवार को स्थानीय समयानुसार सुबह करीब सात बजे बंदूक़धारियों ने होटल पर हमला किया था.

इमेज कॉपीरइट AP

समाचार एजेंसी रॉयटर्स ने सुरक्षा बलों के एक सूत्र के हवाले से कहा कि हमला करते समय बंदूक़धारी 'अल्लाहू अकबर' चिल्ला रहे थे.

इसी साल अगस्त में माली के सेवारे शहर में संदिग्ध इस्लामी चरमपंथियों ने 13 लोगों की हत्या कर दी थी जिनमें पाँच संयुक्त राष्ट्र कर्मी भी शामिल थे.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार