वे पक्षी जिन्हें भोजन नहीं साथी चाहिए

इमेज कॉपीरइट alamy

कुछ पक्षियों को एक साथ रहना पसंद होता है और इसके लिए वे भूखे भी रह सकते हैं.

वैज्ञानिकों को इसका पता तब चला जब ग्रेट टिट पक्षियों को एक समान वातावरण में रखा गया, और भोजन नहीं दिया गया.

ग्रेट टिट जोड़ों ने भोजन खोजने की जगह एक-दूसरे के साथ समय बिताने को तरजीह दी.

करेंट बॉयोलॉजी जर्नल में प्रकाशित इस अध्ययन बताता है कि इन पक्षियों में सामाजिक रिश्तों और सामूहिकता का बोध मौजूद है.

इन पक्षियों को ये भी पता होता है कि परिवार को बढ़ाने और पालने के लिए उन्हें अपने साथी के सहयोग की ज़रूरत होगी.

ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी के विशेषज्ञ और इस शोधपत्र के प्रमुख लेखक जोश फिर्थ ने कहा, "भोजन की तलाश के बदले अपने साथी के साथ रहने के विकल्प का चुनाव ये दिखाता है कि ये पक्षी लंबे समय के लिए आपसी संबंधों को मज़बूत बनाए रखने को तरजीह देते हैं."

इमेज कॉपीरइट Thinkstock

जोश फिर्थ ये भी कहते हैं, "इसलिए वन्य जीवों का भी व्यवहार इस बात पर निर्भर करता है कि उन्हें दूसरे जीव की कितनी ज़रूरत है."

अपने साथी के साथ रहने के लिए वे एक दूसरे के परिवार के झुंड से भी परिचित हो जाते हैं.

इस रिपोर्ट में ये भी कहा गया है कि इस अतिरिक्त सपोर्ट नेटवर्क के चलते इन जानवरों और पक्षियों को दूसरी तरह से भोजन मिल जाता है.

अंग्रेज़ी में मूल लेख यहां पढ़ें, जो बीबीसी अर्थ पर उपलब्ध है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार