मैंडरिन में 'जिहादी गाना' किसके लिए

इस्लामिक स्टेट प्रौपेगैंडा इमेज कॉपीरइट IS propaganda

इस साल दिसंबर में इस्लामिक स्टेट की ओर से मैंडरिन भाषा में 'जिहादी गाना' रिलीज़ किए जाने के बाद चीनी सोशल मीडिया पर लोग अपनी प्रतिक्रिया दे रहे हैं.

लेकिन सरकारी नियंत्रण वाले मीडिया ने चुप्पी साध रखी है.

ऐसा प्रतीत होता है कि मैंडरिन में 'जिहादी गाना' चीन से बाहर रहने वाले चीनी लोगों को ध्यान में रखकर जारी किया गया है.

चीन में लोकप्रिय माइक्रोब्लॉगिंग वेबसाइट वीबो पर यूजर्स का कहना है कि उन्हें इस गाने के बारे में मुख्य तौर पर दो ज़रियों से पता चला है.

पहला है स्वतंत्र ताइवानी अख़बार चाइना टाइम्स और दूसरा है सिंगापुर का अखबार लिआंहे ज़ाओबाओ.

इमेज कॉपीरइट AFP

यूजर्स ने इस्लामिक स्टेट की 'भड़काऊ' और 'शातिर इरादों' वाली एक 'बुरी शक्ति' के रूप में निंदा की है.

यूजर्स का कहना है कि उन्हें इसके बारे में ताइवानी अख़बार ऐपल डेली, हांगकांग के टैबलॉयड ओरियंटल डेली और सैनलीह ए-टेलीविज़न के माध्यम से भी जानकारी मिली है.

इन सभी मीडिया समूहों पर चीन में रोक है. इसलिए यूजर्स बिना वर्चुअल प्राइवेट नेटवर्क (वीपीएन) के सीधे तौर पर इन्हें नहीं देख सकते हैं.

इमेज कॉपीरइट AP

फ्री वीबो नाम की एक वेबसाइट डिलीट किए गए वीबो पोस्ट को अपने पेज पर डालता है.

इस वेबसाइट से पता चलता है कि सरकार के द्वारा मान्यता प्राप्त मीडिया समूहों की ओर से पोस्ट किए गए किसी भी सोशल मीडिया कंटेट को हटाया नहीं गया है.

चीन में कम्युनिस्ट पार्टी की सरकार ने हमेशा 'चरमपंथी करतूतों' की निंदा की है और फ्री वीबो ने इस्लामिक स्टेट की उन प्रौपेगैंडा सामग्रियों को अपनी वेबसाइट पर डाला है जिन्हें सरकार ने लोगों तक पहुंचने से पहले सेंसर कर दिया था.

इमेज कॉपीरइट EPA

माना जाता है कि इन सामग्रियों में एक सीरियाई सैनिक की टैंक से कुचलती हुई तस्वीरें और वीडियो शामिल था.

हालांकि फ्री वीबो चीन से बाहर ट्विटर जैसे सोशल मीडिया पर आने वाली पोस्ट का बहुत कम रिकॉर्ड रखता है. इनमें इस्लामिक स्टेट से सहानुभूति रखने वाले सक्रिय यूजर्स और उनके संदेश शामिल हैं.

हालांकि सरकार नियंत्रित मीडिया ने इस्लामिक स्टेट के चीनी भाषा में गाने को प्रकाशित किया है लेकिन इससे पहले उसने इस्लामिक स्टेट के प्रौपेगैंडा वीडियो में दिखाए बंधकों की क्लिप अपने न्यूज़ बुलेटिन में दिखाई थी.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार