मुसलमानों का फ़ेसबुक पर स्वागत: ज़करबर्ग

मार्क ज़करबर्ग का फ़ेसबुक पेज

फ़ेसबुक के संस्थापक मार्क ज़करबर्ग ने मुसलमानों के समर्थन में आवाज़ उठाई है.

ज़करबर्ग ने लिखा, "मैं दुनिया भर के मुसलमानों के समर्थन में अपनी आवाज़ मिलाता हूँ. मैं मुसलमानों के डर को समझ सकता हूँ कि जिन्हें दूसरों के किए की सज़ा भुगतनी पड़ रही है."

उन्होंने अपने पेज पर लिखा- अगर आप मुसलमान हैं तो मैं फ़ेसबुक के प्रमुख होने के नाते आपको आश्वस्त करता हूं कि आपका यहां हमेशा स्वागत है और हम आपके हक़ के लिए लड़ेंगे.

ज़करबर्ग की प्रतिक्रिया रिपब्लिकन पार्टी के राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार बनने की होड़ में शामिल डॉनल्ड ट्रंप के बयान के बाद आई है.

इमेज कॉपीरइट AP

ट्रंप ने कहा था कि अमरीका में मुसलमानों के प्रवेश पर पाबंदी लगा देनी चाहिए. वहां इस पर तीखी प्रतिक्रिया हुई और न्यूयॉर्क में ट्रंप के ख़िलाफ़ प्रदर्शन हुआ.

ज़करबर्ग ने लिखा, "यहूदी के बतौर मेरे माता पिता ने मुझे सिखाया कि मैं सभी समुदायों पर होने वाले हमलों का विरोध करूं. भले ही यह हमला आज हमारे ख़िलाफ़ न हो, पर किसी की आज़ादी पर हमला हर किसी को नुक़सान पहुँचाएगा."

मार्क ज़करबर्ग की पत्नी ने बीते हफ़्ते एक बेटी को जन्म दिया. मार्क लिखते हैं, "बेटी होने के बाद मैं उत्साह से भरा हूं, पर कुछ लोगों की नफ़रत से संदेह होता है. हमें क़तई उम्मीद नहीं छोड़नी चाहिए और एकजुट होकर बेहतर भविष्य के लिए काम करना चाहिए."

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार