फ़्रांस चुनाव में धुर दक्षिणपंथी पार्टी का सफ़ाया

इमेज कॉपीरइट AFP

फ्रांस क्षेत्रीय चुनाव के दूसरे दौर में शुरुआती नतीजों और रुझानों के अनुसार धुर दक्षिणपंथी दल नेशनल फ्रंट को एक भी सीट नहीं मिली है.

पहले दौर के मतदान में 13 में से छह सीटों पर आगे रहने के बावजूद नेशनल फ्रंट बुरी तरह हार रही है.

पूर्व राष्ट्रपति निकोला सारकोज़ी की रिपब्लिकन पार्टी सत्तारूढ़ सोशलिस्ट पार्टी से आगे चल रही है.

नेशनल फ्रंट की नेता मैरी ली पेन ने हार स्वीकर कर ली है.

मैरी ली पेन की भतीजी भी इन चुनावों में उम्मीदवार थीं. रुझानों से पता चल रहा है कि वे भी चुनाव हार गई हैं.

इमेज कॉपीरइट EPA

मैरी ली पेन को अपने रिपब्लिकन प्रतिद्वंद्वी के 54 फ़ीसदी वोट की तुलना में 46 फ़ीसदी वोट मिले.

हारने के बावजूद उन्होंने 'प्रयासों को दोगुना' करने की बात कही. उन्होंने ये भी कहा, "कुछ सफलताएं जीतने वाले को शर्मसार कर देती हैं."

नार्ड-पास-डे-कालाइस-पिकार्डी से क्षेत्रीय अध्यक्ष पद के लिए रिपबल्किन पार्टी से उम्मीदवार जेवियर बर्ट्रांड ने कहा, "फ्रांस ने एकजुट होकर नेशनल फ्रंट को सबक़ सिखाया और उनके बढ़ते क़दम को रोक दिया है."

इमेज कॉपीरइट EPA

लेकिन सोशलिस्ट पार्टी के प्रधानमंत्री मैनुएल वाल्स चेतावनी देते हैं कि "दक्षिणपंथी ताक़तों से उत्पन्न होने वाले ख़तरे अभी दूर नहीं हुए हैं."

रिपबल्किन पार्टी के निकोला सारकोज़ी ने सुरक्षा से जुड़ी चिंताओं, बेरोज़गारी और हताशा पर बोलते हुए कहा कि ये वक़्त फ्रांस के लिए गंभीर चिंतन का वक़्त है.

फ्रांस के 13 क्षेत्रीय इलाक़ों में अध्यक्ष पद और परिषद् स्तर के चुनाव हुए. ये चुनाव स्थानीय यातायात, शिक्षा और आर्थिक विकास के लिहाज़ से काफ़ी अहम हैं.

इमेज कॉपीरइट EPA

फ्रांसीसी मीडिया की भविष्यवाणी के अनुसार रिपब्लिकन 7 और सोशलिस्ट 5 सीटों पर जीतेंगे. चुनाव के अंतिम नतीजे सोमवार शाम तक आएंगे.

6 दिसंबर को हुए पहले दौर के मतदान में नेशनल फ्रंट को ऐतिहासिक रूप से कामयाबी मिली थी.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार