यमन में ख़ूनी संघर्ष, कई हताहत

इमेज कॉपीरइट Getty

सऊदी अरब की सीमा से लगे पश्चिमोत्तर यमन में हूती विद्रोहियों और सरकारी सैनिकों के बीच हुए संघर्ष में कम से कम 68 लोगों के मारे जाने की ख़बर है.

कहा जा रहा है कि संघर्ष हराद शहर के निकट शुरू हुआ, जिसे दो दिन पहले सरकारी सेना ने अपने क़ब्ज़े में कर लिया था.

सैनिक सूत्रों के मुताबिक़ 28 सैनिक मारे गए हैं, जबकि हूती विद्रोहियों का कहना है कि संघर्ष में उनके 40 लड़ाके मारे गए हैं.

ऐसी भी ख़बरें है कि संघर्ष में 50 विद्रोही और 40 सरकारी सैनिक घायल भी हुए हैं.

इमेज कॉपीरइट AP

माना जा रहा है कि शनिवार की सुबह संघर्ष में इसलिए तेज़ी आई, क्योंकि सरकारी सेना ने लाल सागर बंदरगाह की ओर बढ़ना शुरू किया. इसके बाद विद्रोहियों ने भी बड़ी संख्या में लड़ाकों को तैनात कर दिया.

ये संघर्ष ऐसे समय हो रहा है, जब संयुक्त राष्ट्र के समर्थन से संघर्ष विराम लागू है और स्विट्ज़रलैंड में मंगलवार से शांति वार्ता भी शुरू हुई है.

हूती विद्रोहियों के प्रतिनिधियों और सरकारी प्रतिनिधियों के बीच स्विट्ज़रलैंड के बिएल में बातचीत चल रही है.

विद्रोहियों ने यमनी और सऊदी अरब की अगुवाई वाली गठबंधन सेना पर संघर्षविराम का उल्लंघन करने का आरोप लगाया है.

गठबंधन सेना ने इस साल मार्च में सैनिक कार्रवाई शुरू की थी. उसके बाद से 5700 लोग मारे जा चुके हैं, जिनमें से क़रीब आधे आम नागरिक हैं.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार