तस्वीरें: अमरीका में तूफ़ान, ब्रिटेन में बाढ़

अमरीका में तूफ़ान इमेज कॉपीरइट PA

अमरीका, ब्रिटेन, पारागुए, यूरुग्वे, अर्जेंटिना और ब्राज़ील में बाढ़ और तूफ़ान के कारण लाखों लोग प्रभावित हुए हैं.

अमरीका में तूफ़ान

इमेज कॉपीरइट AP

अमरीका के टेक्सस में तूफ़ान के कारण 8 लोगों की मौत हो गई है. इसके साथ ही पिछले एक सप्ताह में अमरीका में तूफ़ान के कारण हुई मौतों का आंकड़ा 26 तक पहुंच गया है.

इमेज कॉपीरइट AP

5 लोगों की मौत तब हुई, जब डलास के नज़दीक उनकी कार तेज़ हवा के कारण उछल गई. तीन अन्य लोगों के शव पास के शहरों में मिले.

इमेज कॉपीरइट AP

अधिकारियों का कहना है कि टेक्सस और ओकलाहोमा में क़रीब 16 इंच तक की बर्फ़ के साथ 'ऐतिहासिक बर्फ़ीला तूफ़ान' आ सकता है.

इमेज कॉपीरइट AP

टेक्सस में तूफ़ान के कारण चर्च तबाह हो गए हैं, कारें टूट-फूट गई हैं और पेड़ उखड़ गए हैं. कई इमारतों को भी इससे नुक़सान पहुँचा है.

इमेज कॉपीरइट AP

यहां क़रीब 30,000 लोग बिजली के बिना रह रहे हैं. कई जगह गैस लाइनों के फटने की भी ख़बर है.

इमेज कॉपीरइट PA

क्रिसमस से पहले अमरीका में ख़राब मौसम कोई नई बात नहीं, लेकिन मौसम वैज्ञानिकों का कहना है कि देश के कुछ हिस्सों में बेमौसम अधिक तापमान के कारण भी तूफ़ान भयावह हो गया.

ब्रिटेन में बाढ़

इमेज कॉपीरइट PA

पूर्वी इंग्लैंड में बाढ़ के कारण बचाव और राहत दल लोगों को यॉर्क में घरों से निकालकर सुरक्षित स्थानों पर ले जा रहे हैं.

इमेज कॉपीरइट PA

पुलिस ने 300 से 400 लोगों को यॉर्क में ओसे और फॉस नदी के पास से हटाया है, जहां क़रीब 3,500 संपत्तियों के नुक़सान की आशंका है.

इमेज कॉपीरइट Getty

इंग्लैंड, वेल्स और स्कॉटलैंड में सैंकड़ों चेतावनियां जारी की गई हैं, जिनमें जान को ख़तरा होने की 25 गंभीर चेतावनियां भी हैं.

इमेज कॉपीरइट AP

देश के पर्यावरण मंत्री लिज़ ट्रूस ने कहा है कि सरकार हालात की समीक्षा कर रही है. उन्होंने कहा कि पूर्वी इंग्लैंड के इलाक़ों में 'अभूतपूर्व' बारिश हुई है, जिस कारण यह कहना सही होगा कि बाढ़ से निपटने की तैयारियों पर दवाब पड़ा है.

इमेज कॉपीरइट Getty Images

रविवार को प्रधानमंत्री डेविड कैमरन एक आपातकाल कॉन्फ्रेंस कॉल में हिस्सा लेंगे और सोमवार को बाढ़ प्रभावित इलाक़ों का दौरा करेंगे.

पारागुए, यूरुग्वे, अर्जेंटीना और ब्राज़ील

इमेज कॉपीरइट Reuters

पारागुए, यूरुग्वे, अर्जेंटिना और ब्राज़ील के बड़े इलाक़े बाढ़ की चपेट में हैं. पिछले 50 सालों में यह सबसे भयंकर बाढ़ है, जिससे क़रीब डेढ़ लाख लोग प्रभावित हुए हैं.

अधिकारियों के अनुसार एल नीनो के प्रभाव से हुई तेज़ बारिश से तीन नदियों में जलस्तर बढ़ गया है.

इमेज कॉपीरइट AFP

पाराग्वे में आपातकाल लगा दिया गया है और यहां एक लाख 30 हज़ार लोगों को घर छोड़ना पड़ा है. यहां बाढ़ और तेज़ हवा से 200 बिजली के खंभे गिर गए हैं और पेड़ों के गिरने से चार लोग मारे गए हैं.

इमेज कॉपीरइट AFP

अर्जेंटिना में क़रीब 20 हज़ार लोगों ने अपना घर छोड़कर सुरक्षित जगहों में पनाह ली. यहां दो लोगों के मारे जाने की ख़बर है.

राष्ट्रपति मोरिसियो मार्सी रविवार को बाढ़ का जायज़ा लेंगी.

इमेज कॉपीरइट AFP

ब्राज़ील के दक्षिण में 40 शहरों में लगभग 1,800 परिवारों को अपना घर छोड़ना पड़ा है.

यूरुग्वे में पिछले कुछ दिनों में घर छोड़कर जाने वालों में कई अब लौट आए हैं. लेकिन अधिकारियों ने चेतावनी दी है कि यहां जलस्तर घटने में अभी समय लगेगा.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार