भूख से मर रहे शहर में पहुंचेगा भोजन

सीरिया के मदाया शहर के लिए प्रदर्शन इमेज कॉपीरइट Reuters

सीरिया में सरकारी सेना की घेराबंदी में फंसे मदाया शहर के लिए राहत सामग्री ले जाने वाला संयुक्त राष्ट्र का काफ़िला सोमवार को रवाना हो गया है.

रिपोर्टों के मुताबिक़ मदाया में लोग भूख से मर रहे हैं.

विद्रोहियों के क़ब्ज़े वाले मदाया में ज़रूरत के सामान रविवार को ही भेजे जाने थे लेकिन इसमें देरी हो गई.

इमेज कॉपीरइट Reuters

लेबनान सीमा के क़रीब बसे मदाया में अभी क़रीब चालीस हज़ार लोग हैं.

स्थानीय लोगों के मुताबिक़ उन्हें घास और अपने पालूत जानवर खाने पड़ रहे हैं.

ऐसा ही राहत अभियान उत्तरी सीरिया के विद्रोहियों की घेराबंदी वाले दो क़स्बों के लिए भी किया जाना है.

स्वास्थ्य सेवाएं देने वाले अंतरराष्ट्रीय संगठन डॉक्टर्स विदाउट बार्ड्स का कहना है कि मदाया में हालात बेहद ख़राब हैं.

उनके मुताबिक़ कम से कम दस लोगों को आपात चिकित्सा सेवाओं की ज़रूरत है जबकि 250 से अधिक बुरी तरह कुपोषण के शिकार हैं.

सीरियाई गृहयुद्ध में घेराबंदी आम बात है.

कुपोषण का शिकार लोगों की तस्वीरें आने के बाद से मदाया सुर्खियों में आया हैं.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार