क्वेटा में धमाके, जलालाबाद में आत्मघाती हमला

पाकिस्तान इमेज कॉपीरइट epa

पाकिस्तान के अधिकारियों का कहना है कि क्वेटा में हुए धमाके में कम से कम 15 लोग मारे गए हैं. मारे जाने वालों में 14 पुलिस अधिकारी और एक राहगीर था.

अधिकारियों का कहना है कि इस धमाके में 20 अन्य लोग घायल हुए हैं.

अधिकारियों के मुताबिक़ मरने वालों में से अधिकांश सुरक्षा बलों के जवान हैं.

ये जवान उस केंद्र के बाहर सुरक्षा में तैनात किए गए थे, जहां बच्चों को पोलियो की खुराक देने वाले कार्यकर्ता जमा थे.

इमेज कॉपीरइट AFP

बलूचिस्तान प्रांत के एक मंत्री सरफ़राज़ बुगटी ने कहा, धमाका तब हुआ, जब कार्यकर्ता अपने इलाक़ों में जाने से पहले रिपोर्ट करने पहुँचे थे.

पाकिस्तान में पोलियो उन्मूलन से जुड़े कार्यकर्ताओं को पुलिस सुरक्षा देना आम बात है. इन पर पहले भी चरमपंथी हमले होते रहे हैं.

टीकाकरण को चरमपंथी पाकिस्तानी बच्चों को नपुंसक बनाने का पश्चिमी देशों का षड्यंत्र मानते हैं.

पाकिस्तान और अफ़ग़ानिस्तान में पोलियो अभी भी महामारी बनी हुई है.

इमेज कॉपीरइट Reuters

उधर, अफ़ग़ानिस्तान के अधिकारियों का कहना है कि एक आत्मघाती हमलावर ने जलालाबाद स्थित पाकिस्तानी वाणिज्य दूतावास के पास ख़ुद को उड़ा लिया.

अफ़ग़ानिस्तान के गृह मंत्रालय के मुताबिक, इस धमाके में अफ़ग़ान सुरक्षा बलों के कम से कम सात जवान मारे गए हैं. सुरक्षा बलों को इस परिसर के पास की एक इमारत में ख़ुद को बंद किए हुए संदिग्ध चरमपंथियों से मुठभेड़ जारी है.

ख़बर है कि हमलावर उन लोगों की क़तार में शामिल हो गया था जो वीज़ा का आवेदन देने के लिए खड़े थे.

अभी तक किसी भी संगठन ने इस हमले की ज़िम्मेदारी नहीं ली है.

पाकिस्तान वाणिज्य दूतावास भारतीय राजनयिक मिशन के पास स्थित है, जहां पिछले हफ़्ते बंदूकधारियों के एक दल ने हमला किया था.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार