आईएस से जुड़े गुट ने जकार्ता हमले की ज़िम्मेदारी ली

प्लेबैक आपके उपकरण पर नहीं हो पा रहा

इंडोनेशिया की राजधानी जकार्ता में गुरुवार को कई जगह हमला हुआ है. इन धमाकों में अब तक सात लोग मारे गए हैं.

पुलिस के अनुसार मारे जाने वालों में पांच हमलावर हैं और दो आम नागरिक शामिल हैं.

कथित चरमपंथी गुट इसलामिक स्टेट से संबंधित एक संगठन ने इस हमले की ज़िम्मेदारी ली है.

इंडोनेशिया की पुलिस ने एक शख़्स की शिनाख़्त की है जिसने पुलिस के अनुसार इस हमले की साज़िश रची.

इमेज कॉपीरइट AFP

पुलिस के अनुसार बहरुन नइम नाम के इस शख़्स ने हमले का संयोजन किया ताकि वो इस्लामिक स्टेट गुट में अपनी साख बढ़ा सके.

हमलों का निशाना थामरिन स्ट्रीट था, जहां बड़े शॉपिंग सेंटर हैं. यह इलाक़ा संयुक्त राष्ट्र के दफ़्तर और दूतावासों के बेहद क़रीब है.

अभी तक यह साफ़ नहीं है कि इस हमले के पीछे किसका हाथ है.

इमेज कॉपीरइट AFP

देश के राष्ट्रपति जोको विडोडो ने इस 'चरमपंथी कार्रवाई' की निंदा की और लोगों को शांत रहने को कहा है.

उन्होंने कहा, "हम हमले में मारे गए लोगों के लिए शोकमग्न हैं मगर हम इस हमले की भी निंदा करते हैं, जिसने देश की शांति और सुरक्षा को ठेस पहुँचाई है."

इमेज कॉपीरइट EPA

मौक़े पर मौजूद बीबीसी इंडोनेशिया के संवाददाता जेरोम विरावन ने कहा है कि सड़कों पर लाशें पड़ी हैं और कई ज़ख़्मी लोगों को घटनास्थल से हटाकर अस्पताल ले जाया गया है.

फ़ायरिंग तब शुरू हुई जब पुलिस मौक़े पर पहुँची. इसके बाद कई और धमाके हुए और पुलिस ने हमलावरों का पीछा किया.

इमेज कॉपीरइट Reuters

राष्ट्रीय पुलिस के डिप्टी चीफ़ कमिश्नर गेन बुडी गुनावान ने कहा है कि दो हमलावर एक थियेटर के सामने पुलिस की गोलीबारी में मारे गए जबकि अन्य दो ने स्टारबक्स कैफ़े के सामने एक पुलिस पोस्ट पर ख़ुद को उड़ा दिया.

इमेज कॉपीरइट AFP

जकार्ता में सरीना शॉपिंग सेंटर के बाहर शुरुआती धमाके के बाद ही हथियारबंद पुलिस, स्नाइपर्स और बख़्तरबंद गाड़ियां पहुँच गई थीं.

इमेज कॉपीरइट EPA

मौक़े पर मौजूद संयुक्त राष्ट्र के एक अधिकारी के मुताबिक़ जब पहला धमाका हुआ तो वह क़रीब डेढ़ सौ मीटर दूर थे.

डगलस के मुताबिक़, "इसके बाद हम इमारत में भागे. हमने तीसरा धमाका सुना. हम 10वें माले पर अपने दफ़्तर में पहुँचे तो चौथा, फिर पांचवां और छठा धमाका सुना.''

इमेज कॉपीरइट AFP

एक वाक़ये में चश्मदीदों ने बताया कि कम से कम तीन हमलावर घटनास्थल के पास मौजूद स्टारबक्स कैफ़े में घुसे.

इन हमलावरों ने वहां विस्फोट कर दिया और फ़ायरिंग करने लगे.

इमेज कॉपीरइट Reuters

इंडोनेशिया दुनिया में मुसलमानों की सबसे बड़ी आबादी वाला देश है. इंडोनेशिया पर पहले भी इस्लामी उग्रवादी गुट हमला करते रहे हैं. इस्लामिक स्टेट से मिली धमकियों के बाद यहां हाई अलर्ट था.

इमेज कॉपीरइट AFP

बीबीसी संवाददाता करिश्मा वासवानी ने बताया है कि जकार्ता पुलिस के पास कुछ समय पहले संभावित हमले की जानकारी थी, मगर यह पिछली बार से काफ़ी अलग तरह का हमला है.

साल 2009 में जकार्ता के रिट्ज और मैरियट होटल पर हुए बम धमाके के बाद जकार्ता में यह पहला बड़ा हमला है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार