19वीं सदी के जहाज़ का हिस्सा बरामद

जहाज़ का टुकड़ा इमेज कॉपीरइट Getty

मार्च 2014 में लापता हुए मलेशिया एयरलाइंस के विमान MH370 की तलाश में जुटी टीम ने 19वीं सदी के जहाज़ का एक हिस्सा बरामद किया है.

क्रिसमस के ठीक पहले टीम को पानी के नीचे से ये हिस्सा मिला.

खोजकर्ताओं ने एक चालकरहित पनडुब्बी को फोटो खींचने के लिए समुद्र के भीतर उतारा था.

वेस्टर्न ऑस्ट्रेलियन म्यूज़ियम के विशेषज्ञों के मुताबिक़ ये टुकड़ा 19वीं सदी के धातु से बने जहाज़ का है.

इमेज कॉपीरइट Reuters

यह दूसरी बार है जब लापता विमान की खोज के दौरान पानी के नीचे किसी जहाज़ का हिस्सा मिला है.

पिछले साल जांचकर्ताओं ने समुद्र के किनारे बिखरे मलबों की कुछ ख़ौफ़नाक तस्वीरें जारी की थीं.

इमेज कॉपीरइट BBC World Service

MH370 की खोज दो साल से जारी है और इसे इतिहास की सबसे जटिल खोज माना जा रहा है. तीन जहाज़ हिंद महासागर के दक्षिणी भाग में अपनी खोज जारी रखे हैं.

इस दौरान समुद्र के नीचे के कई राज़ उजागर हो रहे हैं.

इमेज कॉपीरइट Reuters

जहाज़ के टुकड़ों के साथ ही पानी के अंदर मौजूद कई अनसुने ज्वालामुखियों के बारे में भी पता चला है.

खोजी टीम ने अब तक एक लाख 20,000 स्क्वेयर किलोमीटर इलाक़े के दोतिहाई हिस्से का मुआयना कर लिया है.

इमेज कॉपीरइट BBC World Service

बता दें कि मार्च 2014 में मलेशिया एयरलाइन्स के MH370 ने क्वालालंपुर से बीजिंग के लिए उड़ान भरी थी और एयर ट्रैफ़िक कंट्रोल से विमान का संपर्क टूट गया. MH370 जहाज़ में 239 यात्री सवार थे.

पिछले साल जून में एयरलाइंस ने अपने 20 हज़ार कर्मचारियों में से छह हज़ार को नौकरी से निकाल दिया था.

साथ ही एयरलाइंस ने नुक़सान की भरपाई के लिए उन रूट्स पर उड़ानें बंद कर दी हैं, जो मुनाफ़ा नहीं दे रहे थे.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार