ताइवान ने चुनी पहली महिला राष्ट्रपति

साई इंग वन इमेज कॉपीरइट Getty

ताइवान में डेमोक्रेटिक प्रोग्रेसिव पार्टी की आज़ादी समर्थक उम्मीदवार साई इंग वन ताइवान की पहली महिला राष्ट्रपति चुनी गई हैं.

चीन के साथ नज़दीकी रिश्तों की पैरोकार सत्तारूढ़ क्वामिनतांग पार्टी को चुनाव में हार का मुंह देखना पड़ा है.

साई इंग वन ने सत्तारूढ़ क्वामिनतांग पार्टी के एरिक चू को हराया है. वो चीनी भाषी दुनिया में पहली महिला राष्ट्रपति हैं.

चीन ताइवान को अपने अलग हुए प्रांत के तौर पर देखता है और चेतावनी भी देता रहा है कि ज़रूरत पड़ने पर बलपूर्वक उसे वापस लिया जा सकता है.

कुछ महीने पहले चीन और ताइवान के नेताओं की ऐतिहासिक मुलाक़ात भी हुई थी.

इमेज कॉपीरइट AFP
Image caption साई इंग वन के समर्थक

संवाददाताओं का कहना है कि ताइवान की अर्थव्यवस्था और चीन के साथ उसके संबंधों ने साई इंग वन की जीत में अहम भूमिका अदा की है.

ताइवान में बीते 70 वर्ष में अधिकतर समय क्वामिनतांग पार्टी का शासन रहा है.

डेमोक्रेटिक प्रोग्रेसिव पार्टी को सत्ता में आने का मौक़ा दूसरी बार मिला है. नई राष्ट्रपति साई इंग वन का कहना है कि वो चीन के साथ 'यथास्थिति बरकरार' रखना चाहती हैं.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार