डॉनल्ड ट्रंप के समर्थन में भारतीय भी

डोनल्ड ट्रंप इमेज कॉपीरइट Getty
Image caption अमरीका की रिपब्लिकन पार्टी से राष्ट्रपति पद की उम्मीदवारी की दौड़ में शामिल डॉनल्ड ट्रंप

अमरीका में भारतीय मूल के कुछ अमरीकी नागरिकों ने रिपब्लिकन पार्टी के उम्मीदवार बनने की दौड़ में शामिल मशहूर धनी व्यवसाई डॉनल्ड ट्रंप को समर्थन देने का एलान किया है.

अधिकतर न्यूयॉर्क औऱ न्यू जर्सी में रहने वाले इन भारतीय मूल के लोगों ने डॉनल्ड ट्रंप के समर्थन में एक संगठन भी बनाया है जिसका नाम है, 'इंडियन अमेरिकन्स फ़ॉर ट्रंप 2016.'

भारतीय अमरीकियों के इस संगठन का मानना है कि इस वर्ष होने वाले अमरीकी राष्ट्रपति के चुनाव में डॉनल्ड ट्रंप अमरीका के लिए सबसे अच्छे उम्मीदवार हैं.

ने एक बयान जारी कर कहा, "हमारे संगठन, इंडियन अमेरिकन्स फ़ॉर ट्रंप 2016 से जुड़े लोग सारे अमरीकियों से अपील करते हैं कि वे हमारे साथ जुड़ें और अमरीका को फिर से महान बनाने के लिए डॉनल्ड ट्रंप को अमरीका का अगला राष्ट्रपति बनाने में मदद करें."

इमेज कॉपीरइट anand ahuja
Image caption इंडियन अमेरिकन्स फ़ॉर ट्रंप 2016 के उपाध्यक्ष आनंद अहूजा

संगठन के उपाध्यक्ष आनंद आहूजा ने बीबीसी हिंदी से कहा कि आतंकवाद से लड़ना हो या अर्थव्यवस्था को बेहतर बनाना हो, सबके लिए ज़रूरी है कि डॉनल्ड ट्रंप अमरीका के राष्ट्रपति बनें.

आनंद आहूजा कहते हैं,"इस समय बहुत ज़रूरी है कि कोई मज़बूत नेता हो जो अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर एक गठबंधन बनाए, क्योंकि आतंकवाद का खतरा बढ़ता जा रहा है, आईएस, बोको हराम जैसे गुट बढ़ते जा रहे हैं. और इनसे निपटने के लिए इस समय अमरीका में सबसे मज़बूत और असरदार नेता सिर्फ़ डॉनल्ड ट्रंप हैं."

'इंडियन अमेरिकन्स फ़ॉर ट्रंप 2016' में शामिल अधिकतर लोग भारतीय मूल के अमरीकी पेशेवर हैं.

संगठन के अध्यक्ष ए डी अमर बिज़नेस के प्रोफेसर हैं और उपाध्यक्ष आनंद आहूजा पेशे से वकील हैं.

इमेज कॉपीरइट Getty images
Image caption डॉनल्ड ट्रंप अक्सर अपने विवादित बयानों के लिए खबरों में रहते हैं

आनंद आहूजा का मानना है कि अर्थव्यवस्था को बेहतर बनाने में भी बतौर सफल व्यवसायी डॉनल्ड ट्रंप का अनुभव काम आएगा.

ट्रंप समर्थक इन भारतीयों का मानना है कि अमरीका में गैर-कानूनी तौर पर रहने वाले करीब 1 करोड़ 20 लाख लोगों को भी देश से बाहर निकाला जाना चाहिए जिससे देश पर आर्थिक बोझ कम हो.

आनंद मानते हैं कि डॉनल्ड ट्रंप ऐसे लोगों को देश से बाहर निकालेंगे और लोगों के अमरीका अवैध रूप से दाख़िल होने पर रोक भी लगाएंगे.

वो कहते हैं," जहां तक मेक्सिको बॉर्डर पर दीवार बनाने की बात है, तो ट्रंप ने कहा है कि वह दीवार बनाएंगे और वह बना भी देंगे."

मुसलमानों को अमरीका में प्रवेश देने से रोकने जैसे ट्रंप के कथित विवादित बयान के बारे में आनंद ने सफ़ाई देते हुए कहा कि ट्रंप सभी मुसलमानों को अमरीका में प्रवेश से रोकने की बात नहीं करते बल्कि सिर्फ़ उन लोगों के प्रवेश पर रोक की बात करते हैं जो चरमपंथ से जुड़े हों.

Image caption ज्यादातर भारतीय मूल के अमरीकी नागरिक डेमोक्रेट्स का समर्थन करते हैं

'इंडियन अमेरिकन्स फ़ॉर ट्रंप 2016' का मकसद है, अधिक से अधिक भारतीय मूल के अमरीकियों को डॉनल्ड ट्रंप का समर्थन करने के लिए तैयार करना.

अमरीका में अधिकतर भारतीय मूल के अमरीकी लोग डेमोक्रेटिक पार्टी के समर्थक हैं. लेकिन रिपब्लिकन पार्टी को समर्थन देने वाले कुछ भारतीयों में कई धनी लोग भी शामिल हैं.

संगठन से जुड़े लोग न्यू हेम्पशियर और फ़लोरिडा जैसे प्रांतों में डॉनल्ड ट्रंप के चुनाव प्रचार में हाथ बंटाने भी जा रहे हैं.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार