सीरिया: सिलसिलेवार बम धमाके, 50 की मौत

सीरिया में धमाके इमेज कॉपीरइट EPA

सीरिया में पैग़म्बर मोहम्मद की नवासी सैय्यदा ज़ैनब की मज़ार के पास हुए सिलसिलेवार बम धमाकों में कम से कम 50 लोग मारे गए हैं.

सैय्यदा ज़ैनब की मज़ार शिया मुसलमानों के लिए बहुत पवित्र है.

सीरियाई सरकारी मीडिया के अनुसार दमिश्क़ के दक्षिण में हुए इन दो धमाकों में 100 से ज़्य़ादा लोग घायल भी हुए हैं.

ख़ुद को इस्लामिक स्टेट कहने वाले सुन्नी चरमपंथी संगठन ने हमले की ज़िम्मेदारी ली है.

इमेज कॉपीरइट AFP

सरकारी मीडिया के अनुसार पहला धमाका कार बम से हुआ. मौक़े पर मौजूद बीबीसी संवाददाता ने बताया कि इलाक़े में जली इमारतें और कारें देखी जा सकती हैं. उन्होंने बताया कि धमाके में नष्ट हुई एक इमारत में सैन्य मुख्यालय था और उस परिसर में कई परिवार भी रहते थे.

इमेज कॉपीरइट AFP

ये धमाके तब हुए हैं जब सीरियाई सरकार और विपक्षी गुटों के बीच, संयुक्त राष्ट्र की पहल पर, जिनेवा में बातचीत चल रही है.

इमेज कॉपीरइट AFP

सीरिया के सरकारी प्रतिनिधिमंडल के प्रमुख बशर अल-जाफ़री ने आरोप लगाया है कि इस हमले से विपक्ष और चरमपंथियों के बीच रिश्ते की पुष्टि होती है.

इमेज कॉपीरइट Getty
Image caption सैय्यदा ज़ैनब मस्जिद शियाओं के लिए पवित्र स्थल है

इस मज़ार की अहमियत को इस बात से भी समझा जा सकता है कि लेबनान का शिया हिज़्बुल्लाह संगठन और ईरान समेत दुनिया भर के शिया लड़ाके, सीरियाई राष्ट्रपति बशर अल-असद सरकार को यही कहते हुए समर्थन दे रहे हैं कि वो सैय्यदा ज़ैनब की मज़ार की हिफ़ाज़त करना चाहते हैं.

इस मज़ार पर पिछले साल फ़रवरी में भी हमला हुआ था.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉयड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार