'उड़ते विमान को हमने बनाया निशाना'

विमान में छेद इमेज कॉपीरइट AP

सोमालिया के इस्लामी चरमपंथी गुट अल-शबाब ने कहा है कि इस महीने की शुरुआत में उन्होंने एक उड़ते हुए विमान पर बम से हमला किया, जिससे विमान में एक बड़ा छेद हो गया था.

यह विमान सोमालिया की राजधानी मोगादिशु से जिबूती की उड़ान पर था.

उड़ान के दौरान विमान में धमाका हो गया था जिसके बाद एक यात्री विमान से नीचे गिर गया और उसकी मौत हो गई.

अल-शबाब ने ईमेल के ज़रिए भेजे बयान में कहा है कि सोमालिया में चल रहे पश्चिमी देशों के ख़ुफ़िया अभियान का विरोध करने के लिए उन्होंने यह हमला किया.

इमेज कॉपीरइट AFP

गुट का कहना है कि तुर्की एयरलाइंस को हमले का निशाना इसलिए बनाया गया क्योंकि उन्होंने कहा था कि नैटो देश सोमालिया में पश्चिमी देशों के अभियान का समर्थन कर रहे हैं.

लेकिन गुट ने माना कि वो विमान को गिराने में नाक़ामयाब रहा.

इस बीच सोमालिया के अधिकारियों ने एक वीडियो जारी किया है जिसमें एक यात्री को लैपटॉप ले कर जाते हुए दिखाया गया है. माना जा रहा है कि इसमें बम रखा गया था.

वीडियो में नारंगी कपड़े पहने एक व्यक्ति, नीली शर्ट पहने एक व्यक्ति के साथ चलते हुआ दिख रहा है और लैपटॉप जैसी कोई चीज़ थामे हुए है. हैट पहने एक आदमी उनकी तरफ़ आ कर उनसे लैपटॉप लेता दिखता है. वीडियो देखें.

सोमाली सरकार इस सिलसिले में अब तक 20 लोगों को गिरफ़्तार कर चुकी है.

इमेज कॉपीरइट AP

डालौ एयरलाइंस की उड़ान 321 में कुल 74 यात्री सवार थे. धमाके की आवाज़ के बाद मोगादिशु में इसकी इमरजेंसी लैंडिग कराई गई.

धमाके में एक व्यक्ति हवाई जहाज़ से गिर गया था. गिरने वाला व्यक्ति कथित तौर पर हमलावर था.

विमान के उड़ान भरने के 15 मिनट बाद उसमें तब धमाका हुआ जब वह क़रीब 11,000 फीट की उंचाई पर था, और केबिन में हवा का दवाब पूरी तरह नहीं बना था.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉयड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार