340 दिन अंतरिक्ष में बिताकर लौटे केली

इमेज कॉपीरइट AFP

अमरीकी अंतरिक्षयात्री स्कॉट केली और रूसी अंतरिक्ष यात्री मिखाइल कॉर्निएंको अंतरिक्ष में एक साल बिताकर धरती पर लौट आए हैं.

इंटरनेशनल स्पेस स्टेशन में उन्होंने आमतौर पर बिताए जाने वाले वक़्त से दोगुना समय यानी 340 दिन बिताए.

इमेज कॉपीरइट AP

उनकी यात्रा के ज़रिए यह पता लगाने में मदद मिलेगी कि लंबे समय तक अंतरिक्ष में रहने का शरीर पर क्या असर होता है.

वैज्ञानिक स्कॉट केली के शरीर की तुलना उनके धरती पर मौजूद जुड़वां भाई मार्क से करके और जानकारी हासिल करना चाहते हैं.

सोयूज कैप्सूल केली, कोर्निएंको और रूसी मिशन के दूसरे सदस्य सर्गेई वोल्कोव को लेकर कज़ाख़स्तान के स्टैपी मैदान में उतरा.

यह मिशन अंतरराष्ट्रीय स्पेस स्टेशन पर एक रिकॉर्ड है. कमांडर केली ने इसी के साथ अंतरिक्ष में अपनी चार यात्राओं में कुल 520 दिन बिता लिए हैं.

केली अपने साथ रॉकेट (सलाद) के बीज भी लाए हैं जिन्होंने दिसंबर में अमरीकी अंतरिक्ष यात्री टिम पीक उगाने के लिए ले गए थे.

ये बीज स्कूलों में बांटे जाएंगे ताकि वैज्ञानिक ज़मीन पर उगने वाले उन जैसे पौधों के मुक़ाबले इनकी बढ़ोत्तरी को समझ सकें. वैज्ञानिक जानना चाहते हैं कि कैसे एक ही बीज अंतरिक्ष और धरती के वातावरण में उगते हैं और उनमें क्या फ़र्क आते हैं.

धरती पर उतरने से पहले कमांडर केली ने पत्रकारों से कहा था, "शारीरिक तौर पर मैं अच्छा महसूस कर रहा हूँ.. मगर पृथ्वी पर मौजूद अपने लोगों से दूर होना सबसे मुश्किल होता है, जो आपके लिए अहम हैं. उनसे संपर्क टूट जाता है."

कज़ाख़स्तान से कमांडर केली अमरीका में ह्यूस्टन जा रहे हैं, जहां अमरीकी अंतरिक्ष एजेंसी नासा के शोधकर्ता उन पर वैज्ञानिक परीक्षण शुरू करेंगे.

उनके जुड़वां भाई मार्क केली भी एक एस्ट्रोनॉट थे जो अब रिटायर हो चुके हैं और उन पर भी वैज्ञानिक परीक्षण कर रहे हैं.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार