हिलेरी क्लिंटन को हो सकती है जेल?

इमेज कॉपीरइट Reuters

क्या विदेश मंत्री के रूप में गोपनीय सूचनाओं को ठीक से नहीं संभाल पाने की वजह से अमरीकी राष्ट्रपति की दौड़ में शामिल हिलेरी क्लिंटन को जेल हो सकती है? और, अमरीकी राष्ट्रपति बनने का उनका ख़्वाब चूर हो सकता है?

यह सवाल एक साल से ज़्यादा वक़्त से उनके चुनाव प्रचार के दौरान बराबर उठता रहा है.

इस मामले में एफ़बीआई एजेंट आने वाले महीनों में क्लिंटन और उनके पूर्व और मौजूदा सहयोगियों से पूछताछ कर सकते हैं.

इमेज कॉपीरइट Getty

हालांकि इस बारे में राय बँटी हुई है कि उन पर लगे आरोप अपराध के दायरे में आते हैं या यह सिर्फ़ दलगत राजनीतिक खींचतान का नतीजा है.

विदेश मंत्री रहते हुए हिलेरी क्लिंटन अपने घर में एक निजी सर्वर का इस्तेमाल करती थीं. उनके कुछ ईमेल्स में ऐसी सूचनाएं थीं जो गोपनीय हो सकती थीं.

हालांकि यह साफ़ नहीं कि जिस समय ये सूचनाएं भेजी गईं तब वो गोपनीय थीं या नहीं? अमरीका में गोपनीय सूचनाएं उजागर करना अपराध है.

सरकारी वकीलों को ये साबित करना है कि गोपनीय सूचनाओं को सार्वजनिक करते समय क्या वो इस बारे में जानती थीं.

शुरू में हिलेरी ने अपनी कोई ग़लती मानने से इनकार किया था, हालांकि बाद में उन्होंने कबूल किया था कि घर में निजी सर्वर का इस्तेमाल उनकी भूल थी.

इमेज कॉपीरइट AFP

हाल ही में सीआईए के पूर्व प्रमुख डेविड पेट्रियस ने ख़ुद पर लगे इन आरोपों को स्वीकार किया कि उन्होंने गोपनीय सूचनाओं को संभालने में लापरवाही बरती थी.

उन पर अपनी जीवनी लेखिका और प्रेमिका पाउला ब्रॉडवेल को गोपनीय सूचनाओं वाली नोटबुक सौंपने के आरोप लगे थे.

उन पर जुर्माना लगा और उन्हें प्रोबेशन पर रखा गया - जिसे कुछ लोग बेहद मामूली सज़ा मानते हैं.

दूसरे कई मामलों में गोपनीय सूचनाएं उजागर करने के दोषी लोगों को जेल हो चुकी है.

साल 2009 में एक पूर्व सरकारी कॉन्ट्रैक्टर स्टीफ़न किम को एक रिपोर्टर को गोपनीय जानकारियां देने का दोषी पाए जाने के बाद 13 महीने की सज़ा सुनाई गई थी.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार