'आईएस ने किया था इस्तांबुल में धमाका'

इमेज कॉपीरइट AP

शनिवार को तुर्की के इस्तांबुल शहर में एक प्रमुख पर्यटक स्थल पर हुए विस्फोट के लिए सरकार ने चरमपंथी संगठन इस्लामिक स्टेट से जुड़े हमलावर को ज़िम्मेदार ठहराया है.

इस आत्मघाती विस्फोट में हमलावर समेत 5 लोग मारे गए थे और क़रीब 20 लोग घायल हुए थे. इस्तिकलाल स्ट्रीट जहां यह धमाका हुआ था वहां शनिवार और रविवार को काफी भीड़ रहती है.

हमलावर की पहचान हो गई है और सरकार के मुताबिक वो तुर्की के नागरिक मोहम्मद ओज़तुर्क हैं. हालाँकि किसी भी चरमपंथी संगठन ने इस हमले की ज़िम्मेदारी नहीं ली थी. इस मामले में पांच लोगों को गिरफ़्तार किया गया है.

इससे पहले पिछले रविवार को राजधानी अंकारा में हुए हमले में 37 लोगों की मौत हो गई थी.

एक कुर्द चरमपंथी संगठन ने उस हमले की ज़िम्मेदारी ली थी. उनका कहना था कि कुर्द समुदाय पर तुर्की सेना की कार्रवाई के बदले में उन्होंने ये हमला किया था.

वहीं पिछले महीने अंकारा में ही एक सैन्य काफिले पर हमला हुआ था जिसमें 28 लोग मारे गए थे और कई घायल हुए थे.

राष्ट्रपति रचैप तइप एर्दोआन का कहना था कि चरमपंथी संगठन आम लोगों को इसलिए निशाना बना रहे हैं क्योंकि वो तुर्क सेना से हार रहे हैं.

उनके अनुसार, "ऐसे हमले हमें चरमपंथ के ख़िलाफ़ लड़ने के हमारे संकल्प को और मज़बूत करते हैं."

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार