टीका नहीं लगवाया तो जाना पड़ेगा जेल

vaccination in uganda इमेज कॉपीरइट AFP
Image caption यूगांडा

युगांडा के राष्ट्रपति योवेरी मुसेवेनी ने नए क़ानून पर हस्ताक्षर किए हैं जिसके मुताबिक़ बच्चों का टीकाकरण नहीं करवाने पर माता-पिता को छह महीने तक की जेल हो सकती है.

इस क़ानून के तहत स्कूल में दाखिले के लिए भी टीकाकरण कार्ड को अनिवार्य बना दिया गया है.

स्वास्थ्य मंत्री सारा ओपेंडी ने बीबीसी को बताया कि यह क़ानून देश में टीकाकरण के लक्ष्यों को पूरा करने में मदद करेगा.

उन्होंने बताया कि कुछ माता-पिता और सदस्य धार्मिक कारणों से अपने बच्चों का टीकाकरण नहीं कराते हैं जिससे बच्चो में पोलियो और मेनिनजाइटिस का ख़तरा बना रहता है.

विश्व स्वास्थ्य संगठन की वर्ष 2015 की रिपोर्ट के अनुसार युगांडा में प्रति 1000 बच्चों में से 70 बच्चे पांच साल की उम्र से पहले ही मर जाते हैं.

इमेज कॉपीरइट PA

ओपेंडी ने आगे कहा कि युगांडा के तीन फ़ीसदी बच्चे टीकाकरण से वंचित हैं.

यह भी देखा गया है कि झुग्गी-झोपड़ियों में स्वच्छता अभियान के दौरान कुछ माता-पिता अपने बच्चों के छुपा देते हैं.

ओपेंडी ने बताया कि लोगों को गुमराह करने के आरोप में पहले कुछ धार्मिक नेताओं को गिरफ़्तार भी किया गया था लेकिन क़ानून के अभाव में उनपर मुकदमा नहीं चलाया जा सका.

राष्ट्रपति ने 10 मार्च को ही इस कानून पर हस्ताक्षर कर दिए थे लेकिन इसे अब सार्वजनिक किया गया है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार