मां-सौतेले बाप ने 'मिलकर की' बेटी की हत्या

इमेज कॉपीरइट ricky booth

ब्रिटेन में एक महिला को अपनी 21 महीने की बेटी की हत्या करने का दोषी पाया गया है.

आइशिया जेन स्मिथ की 2014 में स्टैफर्डशर के बर्टन अपोन ट्रेंट में गंभीर चोटों के कारण मौत हो गई थी. उनकी चोटें कार दुर्घटना जैसी थीं.

उसकी में 23 साल की कैथरीन स्मिथ को साथ ही बच्चे पर क्रूरता का भी दोषी पाया गया है.

कैथरीन के पार्टनर 22 साल के मैथ्यू रिग्बी को हत्या के आरोप से तो बरी कर दिया गया लेकिन उन्हें मौत के लिए ज़िम्मेदार माना गया है.

कैथरीन और मैथ्यू ने बर्मिंघम क्राउन कोर्ट में लगातार खुद को निर्दोष बताया लेकिन जूरी ने अपने फ़ैसले में कहा कि कैथरीन ने ही आइशिया पर घातक प्रहार किया था.

इमेज कॉपीरइट PA

फ़ैसले के बाद महिला जज गेराल्डीन एंड्रयूज ने जूरी के सदस्यों से कहा कि भविष्य में उनकी सेवाएं नहीं ली जाएंगी क्योंकि उन्हें इस मामले में विचलित करने वाले साक्ष्य सुनने पड़े हैं.

कैथरीन और मैथ्यू को सोमवार को सजा सुनाई जाएगी.

कोर्ट को बताया गया कि आइशिया पर उस तरह की चोटें लगी थी जैसी आमतौर पर इमारत से गिरने या कार दुर्घटना में होती हैं.

डॉक्टरों को बच्ची के शरीर पर 16 जगहों पर चोट के निशान मिले जिसमें मस्तिष्क में रक्तस्राव भी शामिल था.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार