रेप का सीधा प्रसारण दिखाने का आरोप

मरीना लॉनिना इमेज कॉपीरइट AP

अमरीका के ओहायो की एक महिला पर ट्विटर के वीडियो ऐप पेरिस्कोप पर एक नाबालिग लड़की के बलात्कार का लाइव प्रसारण करने का आरोप लगा है.

बताया जा रहा है कि वारदात 27 फरवरी की है और इसके बारे में अधिकारियों को एक ऐसे व्यक्ति ने बताया जिसके अनुसार उसने इस प्रसारण को देखा था.

अभियुक्त महिला के वकील के अनुसार उन्होंने इन आरोपों से 'पूरी तरह' इनकार किया है.

एक टेक्नोलॉजी एक्सपर्ट के अनुसार इस घटना से पता चलता है कि लाइव प्रसारण की सुविधा देने वाले ऐप पर नज़र रखना लगभग असंभव है, लेकिन ऐप लोकप्रिय हो रहे हैं.

इमेज कॉपीरइट AP

मैरीना लोनीना पर 17 वर्षीय लड़की के बलात्कार से एक रात पहले उसकी नग्नावस्था में तस्वीरें लेने का भी आरोप है. मैरीना के बॉयफ्रेंड रेमंड गेट्स पर बलात्कार का आरोप है.

रेमंड और मैरीना पर बलात्कार, अपहरण, यौन शोषण और नाबालिग से जुड़े यौन अपराध में मदद करने का आरोप है.

हालांकि ट्विटर से इस बारे में टिप्पणी के लिए संपर्क नहीं हो पाया. ट्विटर के पेरिस्कोप पर इससे पहले आपराधिक मामलों में ज़रिया बनने के आरोप लगते रहे हैं.

इसी महीने पेरिस्कोप के ज़रिए दो विरोधी गुटों के बीच लड़ाई का आयोजन करने पर पुलिस ने हस्तक्षेप किया था.

इमेज कॉपीरइट Getty

पिछले साल लॉन्च किए जाने के बाद से पेरिस्कोप पर करीब 10 करोड़ ब्रॉडकास्ट हो चुके हैं.

ऑक्सफ़ोर्ड इंटरनेट इंस्टीट्यूट के डॉ रॉस राइट का कहना है, "जितना कंटेंट आजकल बनाया और इंटरनेट पर डाला जा रहा है वो इतना ज़्यादा है कि मानवीय स्तर पर इस पर नियंत्रण आसान नहीं और ऑटोमैटिक सिस्टम व्यावहारिक नहीं है."

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार