'सबसे पहले अमरीका' की नीति पर चलेंगे: ट्रंप

 डोनल्ड ट्रम्प इमेज कॉपीरइट Getty

अमरीका में राष्ट्रपति पद के लिए रिपब्लिकन पार्टी की उम्मीदवारी की दौड़ में आगे चल रहे डोनल्ड ट्रंप ने विस्तार से अपनी नीति पेश की है.

पांच राज्यों के प्राइमरी चुनाव में क्लीन स्वीप के बाद ट्रंप ने कहा कि वो 'सबसे पहले अमरीका' की नीति को प्राथमिकता देंगे.

उन्होंने राष्ट्रपति बराक ओबामा की विदेश नीति को 'पूरी तरह बर्बाद' क़रार दिया और कहा कि उनकी नीतियां लक्ष्यहीन हैं.

पेन्सिलवेनिया, कनेक्टिकट, डेलावेर, रोड आईलैंड और मेरीलैंड में जीत दर्ज करने के बाद मंगलवार को ट्रंप ने ख़ुद को रिपब्लिकन पार्टी का संभावित उम्मीदवार बताया.

इमेज कॉपीरइट AP

ख़ुद को इस्लामिक स्टेट कहने वाले चरमपंथी संगठन को चेतावनी देते हुए ट्रंप ने कहा कि अब आईएस के पास 'गिने चुने दिन बचे हैं.'

ट्रंप ने कहा कि वो आईएस को कमज़ोर करने के लिए तेल तक उसकी पहुंच को ख़त्म कर देंगे.

ट्रंप ने वादा किया कि वो रूस, चीन और दूसरे सहयोगियों को एक साथ लाने के लिए उनसे बात करेंगे.

इमेज कॉपीरइट Getty

ट्रंप ने कहा कि अमरीकी जिन देशों की रक्षा करता है, उन्हें इसकी एवज में अमरीका को भुगतान करना चाहिए. "और अगर ऐसा नहीं हो सकता है तो ये देश अपना बचाव ख़ुद करें."

पिछले दिनों उन्होंने अमरीका-जापान रिश्तों पर कहा था, "अगर हम पर हमला होता है तो हमें बचाने के लिए जापान नहीं आएगा, लेकिन अगर जापान पर हमला हुआ तो हम उसके साथ खड़े होंगे. और ये एक बड़ी समस्या है."

चीन के मामले में उन्होंने कहा कि उसके साथ संबंधों को ठीक करना होगा, लेकिन ऐसा वो कैसे करेंगे, ये उन्होंने नहीं बताया.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार