इंसान के मांस को बीफ़ कहकर नहीं बेचा: चीन

इमेज कॉपीरइट THINKSTOCK

चीन के विदेश मंत्रालय ने अफ़्रीकी देश ज़ांबिया में डब्बा बंद बीफ़ के तौर पर इंसानी गोश्त बेचने की ख़बरों का खंडन किया है.

चीन की सरकारी समाचार एजेंसी शिन्हुआ ने कहा है कि ज़ांबिया के एक टैबलॉयड ने चीन में रहने वाली एक महिला का झूठा हवाला देते हुए ये ख़बर दी थी.

उस महिला के हवाले से कहा गया था कि चीनी कंपनियां इंसानों की लाशों से मांस निकालकर, उस पर मसाला लगाकर, टीन के डिब्बों में उन्हें पैक कर रही हैं.

ज़ांबिया में चीन के राजदूत यांग योमिंग का कहना है कि ये रिपोर्ट दोनों देशों के लंबे समय से चले आ रहे बेहतरीन आपसी संबंधों को बिगाड़ने के उद्देश्य से दी गई थे.

जिन तस्वीरों को इंसानी लाश कह कर दिखाया गया है, दरअसल वो 2012 से चल रहा एक मार्केटिंग स्टंट है और यह 'इविल-6' नाम के वीडियो गेम रेज़िडेंट से उठाई गई हैं.

ज़ांबिया के उप रक्षामंत्री क्रिस्टॉफर मुलेंगा ने कहा है कि उनकी सरकार इन रिपोर्टों की जांच कराएगी.

ज़ांबिया में बड़ी संख्या में चीन के लोग बसे हैं. वो ज़ांबिया में ख़ुदरा व्यापार और निर्माण उद्योग में काफ़ी सफल व्यवसायी हैं.

चीन भी ज़ांबिया से बड़े पैमाने पर निर्यात होने वाले तांबे का प्रमुख आयातक देश है. चीन ने ज़ांबिया के खनन उद्योग में बड़ा निवेश भी किया है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार