चीन में असल से भी ज़्यादा ख़ूबसूरत नक़ल

स्फ़िंक्स इमेज कॉपीरइट REX FEATURES

चीन में मिस्र के प्राचीन स्मारकों की नक़ल की कड़ी में मशहूर स्फ़िंक्स की प्रतिमाएं भी जुड़ गई हैं.

लांझाउ सिल्क रोड कल्चरल रेलिक्स पार्क ने ग्रीक पार्थेनान (एथेंस का मशहूर मंदिर) और दुनिया के अजूबों में माने जाने वाली कलाकृतियों की नक़ल तैयार की है.

चाइना डेली के अनुसार, उत्तर पश्चिमी चीन में स्थित इस शहर लांझाउ को उम्मीद है कि मशहूर कलाकृतियों की नक़ल से पर्यटकों, फ़िल्म उद्योग और गेमिंग उद्योग में इसे लेकर रुचि पैदा होगी.

यह शहर कभी सिल्क रोड पर एक बड़ा व्यापारिक केंद्र हुआ करता था. अब चीन इसे पुनर्जीवित करने की कोशिश कर रहा है.

चीन में विश्व प्रसिद्ध स्मारकों, जगहों और शहरों की नक़ल करने की होड़ सी दिखाई देती है और यहां पूरे के पूरे शहर की नक़ल भी तैयार हुई है.

इमेज कॉपीरइट Reuters

हालांकि यह स्फ़िंक्स सबसे बड़ा नहीं है, इसे आंशिक रूप से मक्के के पौधों से बनाया गया है.

इसे शेनडोंग प्रांत के शाउगुआंग में एक प्रदर्शनी में रखा गया है.

इमेज कॉपीरइट Reuters

इस स्फ़िंक्स का सिर असल गिज़ा के पिरामिड के सिर के आकार जितना ही है, लेकिन यहां उसे शरीर के हिस्से से अलग किया गया है. यह हेबेई प्रांत के शिजियाझुआंग के बाहरी इलाके में है.

इमेज कॉपीरइट Reuters

पीपुल्स डेली की ख़बर के मुताबिक़, इसे हाल ही में स्थानीय प्रशासन ने ढहा दिया था क्योंकि मिस्र ने यूनेस्को से शिकायत की थी,"फ़िल्म और टीवी फ़िल्मिंग के रूप में इस जगह का इस्तेमाल अंतरराष्ट्रीय संधियों का उल्लंघन है."

इमेज कॉपीरइट Getty

अनहुई प्रांत के शूझाउ में यह प्रतिमा एक दम नई जैसी है. यह हेरिटेज पार्क का हिस्सा है.

इमेज कॉपीरइट Getty

चीन के नक़ल करने वाले थोड़े रचनात्मक भी हैं. उत्तर पश्चिमी हार्बिन के स्नो फ़ेस्टिवल में बर्फ़ से बनाई गई यह कलाकृति रखी गई है.

इमेज कॉपीरइट Getty

मध्य चीन के वुहान में एक लाइब्रेरी को पिरामिड के आकार का बनाया गया है और उसके बाहर स्फ़िंक्स की कलाकृति भी बनाई गई है.

लेकिन विदेशी नक़ल के प्रति चीन का जुनून मिस्र पर ही नहीं रुकता.

इमेज कॉपीरइट Getty

चीन में वॉशिंगटन की प्रसिद्ध इमारतों की नक़ल आम तौर पर देखी जा सकती हैं, लेकिन शायद यह अकेली नक़ल है जिसमें वॉशिंगटन और चीनी मंदिरों की डिज़ाइन को मिलाया गया है.

हेबेई प्रांत के शिजिआझुआंग के एक पार्क में फ्रांस के प्रसिद्ध लूवर म्यूज़ियम, चीन की कुछ प्राचीन इमारतें और गिज़ा के स्फ़िंक्स की नक़ल भी मौजूद है.

इमेज कॉपीरइट JOHANNES EISELE AP

चीनी पर्यटकों में फ्रांस ही केवल लोकप्रिय नहीं है बल्कि पूर्वी चीन के हांगझाउ में एक लक्ज़री इमारत में एफ़िल टॉवर की हूबहू नक़ल मौजूद है. यह इसकी ऊंचाई 350 फ़ुट है.

इमेज कॉपीरइट Getty

पूर्वी चीन के हेफ़ेई में हाउसिंग डेवलपमेंट के बिल्डरों ने तो कमाल कर दिया है.

उन्होंने ब्रिटेन के असली स्टोनहेंज से भी बेहतर नक़ल तैयार की है.

इमेज कॉपीरइट Getty

बीजिंग में वर्ल्ड पार्क में तो मॉस्को का एक छोटा क्रेमलिन ही बना दिया गया है.

इमेज कॉपीरइट AP

और इस अंतिम तस्वीर के बारे में आप क्या सोचते हैं? यह तस्वीर थोड़े अलग कोण से ली गई है.

यह मिस्र की असली कलाकृति है, लेकिन भरोसा नहीं होता, है न!

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉयड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार