'दस्तावेजों के लिए' सुज़ुकी मुख्यालय पर छापे

इमेज कॉपीरइट Getty

जापान में कार कंपनी सुज़ुकी के मुख्यालय पर छापा मारा गया है.

सुज़ुकी पर गाड़ियों की माइलेज क्षमता जांचने के लिए ग़लत प्रणाली के इस्तेमाल के आरोप लगे हैं जिसकी जांच की जा रही है.

पिछले महीने सुज़ुकी कंपनी ने कहा था कि ईंधन उत्सर्जन में कुछ गड़बड़ियां पाई गई हैं लेकिन कंपनी ने ग्राहकों को धोखा देने से इनकार किया था.

अधिकारियों ने बताया कि कंपनी के इन दावों को पुख़्ता करने वाले दस्तावेज़ ढूंढ़ने के लिए ये छापे मारे हैं.

सुज़ुकी के अनुसार इस मामले का जापान से बाहर बेचे जाने वाले उत्पादों से कोई लेना देना नहीं हैं.

इमेज कॉपीरइट Getty

पिछले हफ़्ते कंपनी ने कहा था कि वह कर्मचारियों की कमी और इंफ्रास्ट्रक्चर में निवेश न होने की वजह से जापनी मानकों के अनुसार परीक्षण नहीं कर पाई है.

सुज़ुकी, टोयोटा, निस्सान और होंडा के बाद जापान की चौथी बड़ी कार कंपनी हैं.

इससे पहले जापान के परिवहन मंत्रालय ने मिस्तूबिशी मोटर्स के दफ़्तर पर भी ऐसे ही आरोपों के सिलसिले में छापे मारे गए थे.

पिछले साल जर्मन कंपनी फ़ोक्सवैगन ने अमरीका में डीज़ल गाड़ियों में उत्सर्जन परीक्षण में हेराफेरी करने की बात मानी थी.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार