ऐसे हुआ ऑरलैंडो नाइट क्लब में हमला

ऑरलैंडो नाइटक्लब इमेज कॉपीरइट European Photopress Agency

अमरीकी शहर ऑरलैंडो के समलैंगिक नाइट क्लब में गोलीबारी की घटना स्थानीय समयानुसार रविवार तड़के 2 बजे शुरू हुई.

'पल्स' ऑरलैंडो शहर के सबसे बड़े नाइट क्लबों में से एक है.

क्लब में रविवार को लैटिन-थीम पर आधारित एक कार्यक्रम का आयोजन हो रहा था.

कार्यक्रम ख़त्म होने ही जा रहा था जब एक व्यक्ति ने अंदर घुसकर अंधाधुंध गोलीबारी शुरू कर दी.

उसके ठीक बाद नाइटक्लब ने अपने फेसबुक पेज पर पोस्ट डाली, "सभी 'पल्स' के बाहर निकलकर भागें."

इमेज कॉपीरइट AP

पुलिस के मुताबिक बंदूकधारी के पास एआर-15 जैसी राइफल और एक हैंडगन थी.

पुलिस ने अमरीकी मीडिया को जानकारी दी है कि उसके शरीर पर कोई संदिग्ध डिवाइस भी बंधा था.

क्लब में काम करने वाले एक पुलिस अधिकारी और बंदूकधारी के बीच कई राउंड की फायरिंग भी हुई.

लेकिन ये साफ़ नहीं है कि दोनों के बीच ये फायरिंग क्लब के अंदर हुई या बाहर.

कहा जा रहा है कि बंधक जैसी स्थिति बन गई थी और स्थानीय समयनुसार सवेरे 5 बजे पुलिस अधिकारियों ने इमारत पर धावा बोला.

क्लब में फंसे लोगों से मिले टेक्स्ट मेसेज और फोन कॉल्स के बाद पुलिस वहां पहुंची थी.

11 पुलिस अधिकारियों के साथ मुठभेड़ में हमलावर की गोली लगने से मौत हो गई.

पुलिस का कहना है कि इसके बाद एक नियंत्रित विस्फोट भी हुआ था.

घटना में कम से कम 50 लोगों की मौत हो गई. हाल के समय में ये अमरीका का सबसे बड़ा सामूहिक गोलीबारी कांड है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार