भारत पाकिस्तान सीमा पर घर छोड़कर जाते लोग

इमेज कॉपीरइट Getty Images
Image caption जम्मू के अख़नूर सेक्टर में अपने घर को छोड़ कर सुरक्षित ठिकानों की ओर जाती महिलाएं.
इमेज कॉपीरइट Getty Images
Image caption सीमा के दोनों ओर से हुई ताज़ा गोलीबारी के बाद जम्मू के अख़नूर सेक्टर में लोग अपने घर को छोड़ सुरक्षित ठिकानों की ओर पलायन कर रहे हैं.
इमेज कॉपीरइट Getty Images
Image caption जम्मू के पहल्लांवाला ज़िले में भारत पाकिस्तान सीमा के क़रीब बसे एक गांव से घर के सारे सामान और साथ में कुत्ते को ले जा रही एक गाड़ी. लोगों को सुरक्षा के लिहाज से अपना घर छोड़ कर जाना पड़ रहा है.
इमेज कॉपीरइट Getty Images
Image caption अमृतसर के पास धनोआ ख़ुर्द गांव में राहत कार्यों में जुटे लोगों के भोजन ले रही एक महिला.
इमेज कॉपीरइट EPA
Image caption 29 सितंबर को विवादित कश्मीर के नियंत्रण रेखा के पास भारत के सर्जिकल स्ट्राइक के बाद भारत- पाकिस्तान सीमा पर दोनों तरफ से गोलीबारी की ख़बरें आ रही हैं. जम्मू के क़रीब बसे एक गांव में अपना सारा सामान ट्रैक्टर पर लादते हुए गांव के लोग.
इमेज कॉपीरइट EPA
Image caption जम्मू के खौर गांव से पलायन करने के लिए बस की कतार में खड़े लोग.
इमेज कॉपीरइट EPA
Image caption जम्मू के चिल्लयारी गांव को खाली कराने के लिए सरकार की तरफ से बसों सा इंतजाम किया गया है. आलम यह है कि लोगों को बसों की छत पर और बसों में लटक कर सवारी करनी पड़ रही है, ताकि जल्दी से सुरक्षित स्थान तक पहुंच सकें.
इमेज कॉपीरइट Getty Images
Image caption वाघा बॉर्डर देखने आए पर्यटकों को वापस भेज रहे बीएसएफ़ के अधिकारी. हालिया तनाव के बाद भारत पाकिस्तान सीमा बस बसे हज़ारों लोगों को अपने मकान खाली कर दूर सुरक्षित जगहों पर जाना पड़ा है.
इमेज कॉपीरइट Reuters
Image caption पंजाब में अमृतसर के पास भारत -पाकिस्तान सीमा के क़रीब पुल कंजारी गांव को खाली करते लोग.
इमेज कॉपीरइट EPA
Image caption पंजाब के एक राहत शिविर में बच्चे को खाना खिलाती एक महिला.
इमेज कॉपीरइट EPA
Image caption जम्मू के पलूरा गांव को खाली कर रहे ग्रामीण.