...यादें भूपेश गुप्त की
प्लेबैक आपके उपकरण पर नहीं हो पा रहा

भारत के सबसे काबिल सांसदों में शामिल भूपेश गुप्त

जब भारतीय संसद के सबसे काबिल और तेज़ तर्रार सांसदो की चर्चा होती है तो उसमें भूपेश गुप्त का नाम बहुत सम्मान के साथ लिया जाता है. वो 1952 में पहली बार राज्य सभा के लिए चुने गए और लागातार 29 वर्षों तक उस सदन के सदस्य रहे. विरोधी भी उनके वाक चार्तुय और किसी भी मुद्दे पर सदन और सरकार को झकझोर देने की क्षमता का सम्मान करते थे. उनकी 102वी जयंती पर उनके जीवन से जुड़े कुछ प्रसंगों को याद कर रहे हैं रेहान फजल विवेचना में.